जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और मूसे वाला का आपस में क्या कनेक्शन? इन 5 पॉइंट्स से समझें

समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई, पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएगा. जिसमें पंजाब पुलिस को फर्जी मुठभेड़ के डर से अपनी हिरासत नहीं देने की मांग की जाएगी.

जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और मूसे वाला का आपस में क्या कनेक्शन? इन 5 पॉइंट्स से समझें

कनाडा के गोल्डी बरार ने मूसे वाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है

चंडीगढ़: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने ली है. लेकिन अब जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की मुश्किलें बढ़ गई हैं. गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को अपनी मौत का डर सता रहा है. समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई, पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएगा. जिसमें पंजाब पुलिस को फर्जी मुठभेड़ के डर से अपनी हिरासत नहीं देने की मांग की जाएगी.

मूसे वाला और बिश्नोई के कनेक्शन से जुड़ी खास बातें

  1. एएनआई ने बताया कि बिश्नोई कई आरोपों में तिहाड़ जेल में बंद है. अब उसकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है. गैंगस्टर ने पहले दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी लेकिन आज इसे वापस ले लिया गया.

  2. सिद्धू मूसे वाला की हत्या के मामले में बिश्नोई से दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मंगलवार को जेल में पूछताछ की. स्पेशल सेल ने मंगलवार को उसे हिरासत में ले लिया था. हालांकि उसके वकील विशाल चोपड़ा ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, "बिश्नोई का मूसे वाला हत्याकांड से कोई लेना-देना नहीं है."

  3. मूसे वाला की हत्या को बिश्नोई और दविंदर बंबिहा के गिरोहों के बीच युद्ध से जोड़ा जा रहा है. बांबिहा को 2016 में एक मुठभेड़ में मार गिराया गया था और उसका गिरोह अब आर्मेनिया की जेल में बंद लकी पटियाल चला रहा है. 

  4. कनाडा के गोल्डी बरार ने मूसे वाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है. बरार से ताल्लुक रखने वाला लॉरेंस बिश्नोई दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद है.

  5. "लॉरेंस बिश्नोई ग्रुप" नाम के एक अकांउट से पोस्ट किया गया कि मूसे वाला की हत्या एक युवा अकाली दल के नेता विक्की मिद्दुखेड़ा की हत्या का बदला था, जो बिश्नोई समूह के लिए काम करता था. पंजाब पुलिस ने यह भी कहा कि बिश्नोई गिरोह शामिल है. हालांकि उनके वकील ने उनका नाम मामले में बेवजह घसीटे जाने की बात कही है.