सिद्धू मूसे वाला को तीनों तरफ से घेरकर हमलावरों ने बरसाई थीं गोलियां- कैसे हुआ था मर्डर; डिटेल्स आईं सामने

सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि मूसे वाला पर जब हमला हुआ तब वो नजदीकी गांव बरनाला में अपनी मौसी का हाल जानने के लिए के लिए जा रहे थे. गाड़ी में उसका दोस्त गुरविंदर सिंह पीछे और गुरप्रीत सिंह उसके साथ वाली सीट पर बैठे हुए थे. उनकी गाड़ी बीच में रोककर मूसे वाला पर तीनों तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग की गई.

चंडीगढ़:

Sidhu Moose Wala Murder Case: पंजाबी सिंगर और कांग्रेसी नेता सिद्धू मूसे वाला मर्डर केस की तमाम पहेलियां सुलझाने की कोशिशें लगातार जारी है. हर किसी के जेहन मे यही सवाल आ रहा है कि आखिर अपराधियों ने किस तरह से इस दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दिया. इसी बीच सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि मूसे वाला पर जब हमला हुआ तब वो नजदीकी गांव बरनाला में अपनी मौसी का हाल जानने के लिए के लिए जा रहे थे. गाड़ी में उसका दोस्त गुरविंदर सिंह पीछे और गुरप्रीत सिंह उसके साथ वाली सीट पर बैठे हुए थे. 

सिद्धू मूसे वाला की मौसी बीमार थी इसलिए वो अचानक से ही अपने दोस्तों संग उनका हाल जानने के लिए निकल पड़े. उनकी थार गाड़ी में 5 लोगों के बैठने की जगह नहीं थी इसलिए उन्होंने अपनी सिक्योरिटी कर्मियों को साथ नहीं बिठाया. गुरविंदर सिंह के अनुसार जैसे ही वह गांव से कुछ दूर पहुंचे तो सबसे पहले उनके पीछे से एक फायर हुआ था. इसके बाद एक गाड़ी उनकी गाड़ी के आगे आकर रुक गई थी. पीछे की तरफ से फायरिंग उसके बगल में हुईं और वह नीचे झुक गया.

ये भी पढ़ें: Sidhu Moose Wala Murder : मूसे वाला हत्या मामले में आरोपी मनप्रीत से पूछताछ जारी, हमले में शामिल थे 6 से ज्यादा शूटर्स

इसके बाद एक शख्स ताबड़तोड़ फायर करता हुआ गाड़ी के ठीक सामने आ गया. और  फिर उसने कई राउंड ताबड़तोड़ फायर किए. जवाब में सिद्धू मूसे वाला ने भी अपने पिस्टल से दो फायर किए थे मगर सामने वाले हमलावर के पास ऑटोमेटिक गन होने थी, इसलिए सिद्धू की जवाबी फायरिंग काम नहीं आ सकी और वो कमजोर पड़ गया. इसके बाद मुसे वाला पर गाड़ी के तीनों तरफ से फायरिंग होने लगी. सिद्दू मूसे वाला ने एक बार गाड़ी को भगाने का प्रयास भी किया था मगर सफल नहीं हो सका.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

VIDEO: सिद्धू मूसेवाला मर्डर: पंजाब में बढ़ा गैंगवार का खतरा, नीरज बवाना गैंग ने दी बदले की धमकी | पढ़ें