दिल्ली में लौटी गर्मी, कई इलाकों में पारा 45 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंचा

दिल्ली के कुछ हिस्सों में लू के हालात में गुरुवार को तापमान 44-45 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया, क्योंकि नमी वाली पुरवाई हवाओं ने गर्म और शुष्क पछुआ हवा का रास्ता बना लिया.

दिल्ली में लौटी गर्मी, कई इलाकों में पारा 45 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंचा

Delhi Weather Update : दिल्ली में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया

नई दिल्ली:

दिल्ली में कुछ दिनों की राहत के बाद गर्मी ने एक बार फिर प्रचंड रूप धारण कर लिया है. दिल्ली के कुछ हिस्सों में लू के हालात में गुरुवार को तापमान 44-45 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया, क्योंकि नमी वाली पुरवाई हवाओं ने गर्म और शुष्क पछुआ हवा का रास्ता बना लिया. दिल्ली के बेस स्टेशन सफदरजंग आर्ब्जवेटरी का अधिकतम तापमान बढ़कर 42.5 डिग्री सेल्सियस हो गया। बुधवार को तापमान 41.4 डिग्री सेल्सियस था. नजफगढ़ (44.7 डिग्री सेल्सियस), मुंगेशपुर (45.4 डिग्री सेल्सियस) और पीतमपुरा (44 डिग्री सेल्सियस) में अधिकतम तापमान सामान्य तापमान से कम से कम पांच डिग्री सेल्सियस अधिक रहा. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार और शनिवार को राजधानी में अधिकांश स्थानों पर लू की चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट जारी किया है.

रविवार को भीषण लू से लोगों को सावधान करने के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.  मौसम की चेतावनी के लिए आईएमडी चार रंग कोड का उपयोग करता है - हरा (कोई कार्रवाई की आवश्यकता नहीं), पीला (देखें और अपडेट रहें), नारंगी (तैयार रहें) और लाल (कार्रवाई करें). रविवार को सफदरजंग वेधशाला में पारा 45 डिग्री के स्तर को छूने का अनुमान है. मौसम विशेषज्ञों ने कहा कि अलग-अलग स्थानों पर तापमान 46-47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


रविवार से दिल्ली में लू चलने की भविष्यवाणी की गई थी, लेकिन चक्रवात आसनी के प्रभाव में राष्ट्रीय राजधानी में चल रही पुरवाई हवाओं ने शहर को इससे बचा लिया. एक के बाद एक हल्की बारिश, गरज और तेज हवाओं ने पिछले सप्ताह भीषण गर्मी से कुछ राहत प्रदान की थी. दिल्ली में एक गर्म और शुष्क मार्च देखा गया था, जो सामान्य 15.9 मिमी के मुकाबले शून्य वर्षा का अनुमान लगा रहा था. 12.2 मिमी के मासिक औसत के मुकाबले अप्रैल में 0.3 मिमी बारिश हुई.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)