अगरकर बोले इन तीन पेसरों के साथ हर हाल में WTC फाइनल में उतरे भारत

WTC Final: अजित बोले कि पिछले कुछ सालों से भारतीय सीम अटैक उसकी ताकत बन गया है. चाहे नंबर-1 तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हों, या इशांत शर्मा, ये दोनों ही हालिया समय में बेहतर हुए हैं. इलेवन में चार पेसर होने की संभावना पर पूर्व तेज गेंदबाज ने कह कि अगर पिच पर घास की परत होती है, तो इलेवन में चौथा तेज गेंदबाज भी खेलते दिखायी पड़ सकता है. 

अगरकर बोले इन तीन पेसरों के साथ हर हाल में WTC फाइनल में उतरे भारत

भारत के पूर्व सीमर अजित अगरकर

नई दिल्ली:

समय गुजरने के साथ ही 18 जून से खेले जाने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) को लेकर माहौल बनने  लगा है. इस फाइनल में टीम विराट (Virat Kohli) की टक्कर टीम विलियमसन से होगी. और महामुकाबले के लेकर पूर्व क्रिकेटरों के विचारों में तेजी गयी है. एक्सपर्टस की भूमिका में क्रिकेटर अलग-अलग राय दे रहे हैं. इसी कड़ी में भारत के पूर्व सीमर अजित अगरकर (Ajit Agarkar) ने बताया कि WTC Final में भारतीय तेज गेंदबाजी का आक्रमण कैसा होना चाहिए. 

अजित अगरकर ने डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए अपना पेस बॉलिंग अटैक चुनते हुए इसमें इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह को चुना है. अगरकर ने एक टीवी शो में कहा कि WFC Final में सीमर बहुत ही अहम रोल निभाएंगे और भारत का अटैक दुनिया में किसी भी सर्वश्रेष्ठ पेस अटैक की तरह ही है.

पाकिस्तान ने इंग्लैंड और विंडीज दौरे के लिए अलग फॉर्मेटों के लिए घोषित की तीन टीमें, शेड्यूल भी देखें

अजित बोले कि पिछले कुछ सालों से भारतीय सीम अटैक उसकी ताकत बन गया है. चाहे नंबर-1 तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हों, या इशांत शर्मा, ये दोनों ही हालिया समय में बेहतर हुए हैं. इलेवन में चार पेसर होने की संभावना पर पूर्व तेज गेंदबाज ने कह कि अगर पिच पर घास की परत होती है, तो इलेवन में चौथा तेज गेंदबाज भी खेलते दिखायी पड़ सकता है. 

इंटरनेशनल क्रिकेट में कभी वाइड गेंद नहीं डालने वाले टॉप 10 गेंदबाज, देखें पूरी लिस्ट


अजित ने कहा कि मुझे लगता है कि मेरे बताए तीन तेज गेंदबाज पक्के तौर पर WTC Final में खेलेंगे. और अगर पिच पर घास की परत दिखायी पड़ी, तो चौथा भी नजर आ सकता है. उन्होंने कहा कि हम नहीं जानते कि भविष्य में कैसी कंडीशंस होने जा रही हैं, लेकिन हमारे गेंदबाज ड्यूक गेंद के साथ मेजबानों पर दबाव जरूर बनाएंगे. इस गेंद के साथ पेसरों को मदद मिलेगी ही मिलेगी. आप जून के मध्य में इंग्लैंड में सूख पिच की उम्मीद नहीं कर सकते. याद दिला दें कि सा 2018 सीरीज में बुमराह ने तीन टेस्ट में 14 विकेट चटकाए थे, जबकि शमी ने 5 मैचों में 16 विकेट लिए थे.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले हुयी मिनी ऑक्शन में कृष्णप्पा गौतम 9.25  करोड़ रुपये में बिके थे. ​