सचिन ने अर्जुन तेंदुलकर को ट्रोल करने वालों को दिया करारा जबाव, बोले कि...

आईपीएल 2021 (IPL 2021 Auction) के ऑक्शन में तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को मुंबई इंडियंस फ्रेंचाइजी ने 20 लाख रूपये में खरीदकर अपने टीम में शामिल किया है. अर्जन के खरीदे जाने के बाद सोशल मीडिया पर यह बहस तेजी से छिड़ गई थी कि तेंदुलकर का बेटा होने के कारण ही अर्जुन को आईपीएल में खेलने का मौका मिला है.

सचिन ने अर्जुन तेंदुलकर को ट्रोल करने वालों को दिया करारा जबाव, बोले कि...

सचिन तेंदुलकर की तस्वीर

आईपीएल 2021 (IPL 2021 Auction) के ऑक्शन में तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को मुंबई इंडियंस फ्रेंचाइजी ने 20 लाख रूपये में खरीदकर अपने टीम में शामिल किया है. अर्जन के खरीदे जाने के बाद सोशल मीडिया पर यह बहस तेजी से छिड़ गई थी कि तेंदुलकर का बेटा होने के कारण ही अर्जुन को आईपीएल में खेलने का मौका मिला है. अब सचिन ने कुछ ऐसी बातें की है जो सुर्खियां बन रही है. दरससल उन्होंने ‘अनएकेडमी' का ब्रांड एंबेसडर बनने के बाद पीटीआई-भाषा से वर्चुअल बातचीत में कहा है, ‘‘खेल में मैदान पर आपके प्रदर्शन के अलावा किसी अन्य चीज को मान्यता नहीं मिलती है.'' तेंदुलकर ने कहा कि खेल नयी पहल से लोगों को एकजुट करता है.

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का मानना है कि खेलों में किसी खिलाड़ी को उसकी पृष्ठभूमि नहीं बल्कि मैदान पर प्रदर्शन पहचान दिलाता है. सर्वकालिक महान क्रिकेटरों में से एक तेंदुलकर ने कई रिकार्ड अपने नाम करने के बाद 2013 में संन्यास ले लिया था. तेंदुलकर ने कहा, ‘‘जब भी हम ड्रेसिंग रूप में प्रवेश करते हैं तो वास्तव में यह मायने नहीं रखता कि आप कहां से आये हैं. आप देश के किस हिस्से से आये हैं और आपका किससे क्या संबंध है. यहां सभी के लिये समान स्थिति होती है. ''

India vs England 3rd Test: कब और कहां LIVE देख सकते हैं भारत और इंग्लैंड के बीच डे-नाइट टेस्ट मैच


उन्होंने कहा, ‘‘आप एक व्यक्ति के रूप में वहां हैं. ऐसा व्यक्ति जो टीम में योगदान देना चाहता है. हम यही तो करना चाहते हैं, अपने अनुभवों को साझा करना करना. विभिन्न स्कूलों और बोर्ड का हिस्सा होने के नाते मैं अलग अलग तरह के प्रशिक्षकों से मिलता हूं/ मैं स्वयं बहुत कुछ सीखता हूं और ये वे अनुभव हैं जिन्हें मैं साझा करना चाहता हूं.'

उन्होंने विद्यार्थियों से अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिये अतिरिक्त प्रयास करने की सलाह दी.तेंदुलकर ने कहा, ‘‘अपने सपनों का पीछा करते रहें, सपने सच होते हैं. कई बार हमें लगता है कि अब कुछ नहीं हो सकता लेकिन ऐसा कभी नहीं होता, इसलिए अतिरिक्त प्रयास करें और आप अपने लक्ष्य हासिल कर लोगे. उन्होंने अपने स्वर्गीय पिता रमेश तेंदुलकर को याद किया जो कि प्रोफेसर थे. तेंदुलकर ने कहा, ‘‘जब हम पहुंच के बारे में बात करते हैं तो मुझे अपने पिताजी याद आते हैं जो प्रोफेसर थे और मुंबई के एक छोर से दूसरे छोर तक यात्रा करते थे और वह लगातार अपने विद्यार्थियों को पढ़ाने में व्यस्त रहे.

PSL: चीनी खिलाड़ी से रमीज राजा ने पूछा, चीन में क्रिकेट को क्या कहते हैं, मिला ऐसा रोचक जवाब...देखें Video

बता दें कि मुंबई इंडियंस टीम के क्रिकेट हेड जहीर खान ने एक बयान में कहा है कि अर्जुन को अपने परफॉर्मेंस से खुद को साबित करना होगा. सचिन तेंदुलकर का बेटा होने का अतिरिक्त दबाव हमेशा उनके ऊपर रहेगा.ये ऐसी चीज है जिसके साथ जीना उन्हें सीखना होगा और ऐसे में टीम का माहौल उनके लिए मददगार साबित होगा.ये दबाव एक अच्छा क्रिकेट खिलाड़ी बनने में उनकी मदद करेगा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:  कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)