आम-ए-खास: हो जाएं खुश, मोटी हो गई आमों की मलिका 'नूरजहां'

अधिक वजन की वजह से 'आमों की मलिका' के नाम से मशहूर 'नूरजहां' आम के शौकीनों के लिए अच्छी खबर है. गर्मियों के मद्देनजर आम की इस खास प्रजाति का औसत वजन पिछले साल के मुकाबले बढ़ सकता है. इस बार इसके केवल एक फल का अधिकतम वजन चार किलोग्राम से ज्यादा रह सकता है.

आम-ए-खास: हो जाएं खुश, मोटी हो गई आमों की मलिका 'नूरजहां'

आम-ए-खास: 4 किलोग्राम के पार जा सकता है 'नूरजहां' के एक फल का वजन

अपने भारी-भरकम फलों के चलते 'आमों की मलिका' के रूप में मशहूर 'नूरजहां' किस्म के स्वाद के शौकीनों के लिए अच्छी खबर है. सब कुछ ठीक रहा तो इस बार इसके केवल एक फल का अधिकतम वजन चार किलोग्राम से ज्यादा रह सकता है. आम की इस खास किस्म के एक उत्पादक ने बुधवार को यह अनुमान जताया. अफगानिस्तानी मूल की मानी जाने वाली, आम की प्रजाति नूरजहां के गिने-चुने पेड़ मध्यप्रदेश के अलीराजपुर जिले के कट्ठीवाड़ा क्षेत्र में पाए जाते हैं. यह इलाका गुजरात से सटा है.

हिन्दुस्तानी जुगाड़ टेक्नोलॉजी का कमाल ! मोटरसाइकिल से बनाई पानी पर चलने वाली जेट स्की

इंदौर से करीब 250 किलोमीटर दूर कट्ठीवाड़ा के आम उत्पादक शिवराज सिंह जाधव का कहना है कि, 'इस बार मेरे बाग में नूरजहां आम के तीन पेड़ों पर कुल 250 फल लगे हैं. ये फल 15 जून तक पककर बिक्री के लिए तैयार होंगे और इसके एक फल का अधिकतम वजन चार किलोग्राम के पार जा सकता है.'

Elon Musk का बड़ा ऐलान, Twitter यूज करने के लिए अब चुकानी होगी कीमत, यूजर्स में मची खलबली

उन्होंने हालांकि बताया कि जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों के कारण इस बार नूरजहां के कई बौर (आम के फूल) पेड़ पर नहीं टिक पाए और फल में तब्दील होने से पहले ही नीचे टपक गए. आम उत्पादक ने बताया कि, 'पिछले साल नूरजहां के एक फल का वजन औसतन 3.80 किलोग्राम था.'

बुजुर्ग महिला ने 'सामी-सामी' सॉन्ग पर किया ऐसा जबरदस्त डांस, लोग बोले- 'लगता है दादी में माइकल जैक्सन की आत्मा आ गई है'

जाधव ने बताया कि, 'कट्ठीवाड़ा के पास स्थित गुजरात के कई शौकीन नूरजहां आम के फलों की अग्रिम बुकिंग के लिए उनसे अभी से फोन पर पूछताछ कर रहे हैं, जबकि इन्हें पककर बिक्री के लिए तैयार होने में कोई डेढ़ महीना बाकी है.'

भयानक बवंडर ने अमेरिका के इन शहरों में छोड़े तबाही के निशान, वायरल Video में दिखा खौफनाक मंजर

उन्होंने आगे कहा कि, 'मौसम का कोई भरोसा नहीं है और आंधी-बारिश का अंदेशा बना हुआ है, इसलिए मैं नूरजहां आम के ज्यादा फलों की अग्रिम बुकिंग नहीं ले रहा हूं.' जाधव ने बताया कि,  वह इस बार नूरजहां का एक आम 1,000 रुपये से 2,000 रुपये के बीच बेचने पर विचार कर रहे हैं, जबकि पिछले साल इसके एक फल का भाव 500 रुपये से 1,500 रुपये के बीच रहा था.

IPS के गलत ट्वीट से सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस, देनी पड़ गई सफाई

बागवानी के जानकारों ने बताया कि, नूरजहां आम के पेड़ों पर आमतौर पर जनवरी-फरवरी से बौर आने शुरू होते हैं और इसके फल जून के पहले पखवाड़े तक पककर बिक्री के लिए तैयार हो जाते हैं. उन्होंने बताया कि नूरजहां आम के भारी-भरकम फल तकरीबन एक फुट तक लम्बे हो सकते हैं और इनकी गुठली का वजन 150 से 200 ग्राम के बीच होता है.
 

मुंबई में एक फैशन शो के दौरान बॉलीवुड अभिनेत्री अथिया शेट्टी का दिखा ग्लैमरस अंदाज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com