6 साल की बच्ची के पेट में था बालों का गुच्छा, डॉक्टर्स ने सर्जरी कर बचाई जान

हरियाणा (Haryana) के पंचकूला  (Panchkula) में एक बेहद ही अजीब मामला सामने आया है. जहां पर डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिए 6 साल की बच्ची के पेट से 1.5 किलो बालों का गुच्छा निकला. 

6 साल की बच्ची के पेट में था बालों का गुच्छा, डॉक्टर्स ने सर्जरी कर बचाई जान

डॉक्टर्स को बच्ची को बचाने के लिए सर्जरी करनी पड़ी.

नई दिल्ली:

पेट में दर्द (Stomach Pain) का होना एक आम समस्या है, लेकिन कई बार इलाज (Treatment) कराते वक्त ऐसे सच सामने आते हैं जो हर किसी का उड़ा देते हैं. इन दिनों एक ऐसी ही खबर देशभर में काफी सुर्खियां बटोर रही है. ये खबर सुन यकीनन आप भी चौंक जाएंगे. दरअसल हरियाणा (Haryana) के पंचकूला  (Panchkula) में एक बेहद ही अजीब मामला सामने आया है. जहां पर डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिए 6 साल की बच्ची के पेट से 1.5 किलो बालों का गुच्छा निकला. 

एक रिपोर्ट के मुताबिक पंचकूला (Panchkula) के मदनपुर गांव (Madanpur Village) की रहने वाली 6 साल की बच्ची को कई दिनों से पेट दर्द से जूझ रही थी. जब दर्द काबू के बाहर हो गया तब घर वाले बच्ची को लेकर एक अस्पताल में पहुंचे. जहां डॉक्टर्स (Doctors) ने बच्ची के कुछ टेस्ट करवाएं. जिसके बात यह पता चला कि उसके पेट में बालों का गुच्छा जमा है. जिसकी वजह से उसे असहनीय दर्द हो रहा है. 

बच्ची की हालत देख डॉक्टर्स (Doctors) ने फौरन सर्जरी (Surgery) करने के बारे में बोला. डॉक्टर्स ने बच्ची के परिजनों से सर्जरी (Surgery) कराने को कहा. इसके बाद डॉक्टर विवेक भादू और उनकी टीम ने बच्ची का ऑपरेशन किया जो पूरी तरह से सफल रहा. फिलहाल बच्ची को अभी अंडर ऑब्जरवेशन (Under Observation) रखा गया है. अभी उसकी हालत एकदम सामान्य बताई जा रही है.

ये भी पढ़ें: काजीरंगा पार्क में जंगल सफारी का लुत्फ उठा रहे थे टूरिस्ट, गुस्सैल गैंडे ने दो किलोमीटर तक दौड़ाया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अब ये खबर काफी सुर्खियां बटोर रही है. आपको बता दें कि इससे पहले भी कई मामले ऐसे आ चुके हैं. जिसमें मरीज पेट दर्द की समस्या लेकर डॉक्टर के पास पहुंचा. लेकिन जांच कराने पर जो सच सामने आया उसने  मरीजों (Patients) के होश उड़ा दिए. खैर अच्छी बात ये है कि जब भी ऐसे मामले आए है तो डॉक्टर्स अपनी पूरी कोशिश कर मरीजों की तबीयत खराब होने से बचा लेते हैं.