6 साल की उम्र में हुआ था बाल विवाह, 12 साल की शादी को तोड़ने में यूं पाई सफलता

राजस्थान के पीथावास गांव की एक लड़की जिसकी महज छह साल की उम्र में शादी कर दी गई थी, आखिरकार वह 12 साल की अपनी शादी को रद्द कराने में सफल हुई.

6 साल की उम्र में हुआ था बाल विवाह, 12 साल की शादी को तोड़ने में यूं पाई सफलता

नई दिल्ली:

राजस्थान के पीथावास गांव की एक लड़की जिसकी महज छह साल की उम्र में शादी कर दी गई थी, आखिरकार वह एक एनजीओ सारथी ट्रस्ट की सहायता से 12 साल की अपनी शादी को रद्द कराने में सफल हुई. अब 18 साल की हो चुकीं एक मजदूर की बेटी पिंटूदेवी की शादी सारण नगर के एक युवक से हुई थी. उनकी शादी को जोधपुर के एक पारिवारिक न्यायालय द्वारा रद्द किया गया. 

बचपन में ब्याही गई लड़की के ससुराल वाले कथित तौर पर आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त थे. पिंटूदेवी ने जब तलाक मांगा तो उन लोगों ने उनके परिवार को समाज से बहिष्कृत करा देने की धमकी दी. 

सोनाक्षी सिन्हा के घर आया 'नन्हा मेहमान', वीडियो शेयर कर यूं फैन्स को दिखाया उसका चेहरा

जोधपुर के गैर-सराकरी संगठन सारथी ट्रस्ट की संस्थापक व मैनैजिंग ट्रस्टी कृति भारती की मदद से पिंटूदेवी ने जून में शादी रद्द कराने के लिए याचिका दायर की. 

न्यायाधीश पी.के.जैन ने समाज को बाल विवाह की बुराइयों के बारे में संदेश देते हुए शादी को रद्द करने के आदेश दिए. 

पिंटूदेवी ने बताया, "कृति दीदी की मदद से मैं बाल विवाह के चंगुल से आजाद हुई और अब मैं अपने सपने को साकार करने के लिए पढ़ाई करूंगी."

भारती ने कहा कि पिंटूदेवी की शादी रद्द होने के बाद उनके पुनर्वास के लिए बेहतर प्रयास किए जा रहे हैं. 

खूबसूरत दिखने के लिए लड़की ने किया बालों के साथ कुछ ऐसा, दोगुना हो गया सिर का साइज़​

इनपुट - आईएएनएस

 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com