विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 16, 2022

QUAD को मज़बूत होता देख खुश है अमेरिका, हिंद-प्रशांत में बहुपक्षीय सहयोग की हुई वकालत

"QUAD एक सकारात्मक सोच है जो हिंद-प्रशांत क्षेत्र में साझा मूल्यों को आगे बढ़ा रही है और सदस्य देशों की अपनी खासियतों का इसे फायदा मिल रहा है."- अमेरिकी सांसद

Read Time: 3 mins
QUAD को मज़बूत होता देख खुश है अमेरिका, हिंद-प्रशांत में बहुपक्षीय सहयोग की हुई वकालत
QUAD देशों के संगठन में शामिल हैं अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, जापान और भारत
वॉशिंगटन:

कई अमेरिकी सांसदों ने एक साझा बयान में कहा है कि वो अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया और भारत की क्वाड (QUAD)  गठबंधन की साझेदारी को मजबूत होता देख खुश हैं. अमेरिकी सांसदों ने QUAD देशों के निकट संबंधों का भरपूर समर्थन भी किया. अमेरिकी सांसदों की तरफ से जारी किए बयान में कहा गया, " हम पिछले सप्ताह की मंत्रिस्तरीय बैठक के जरिए इस अहम साझेदारी को और मजबूत होते देखकर खुश हैं.'' अमेरिकी सांसदों ने ‘QUAD'  के सदस्य देशों के विदेश मंत्रियों की हाल में हुई बैठक की प्रशंसा की है.

भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया QUAD के सदस्य देश हैं. इन देशों के विदेश मंत्रियों ने हाल में ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में बैठक की थी. इस दौरान नेताओं ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन की तरफ से अस्थिरता फैलाने और यूक्रेन पर रूस के हमले की आशंका पर चर्चा की गई थी. 

यह बयान सांसद जोआक्विन कास्त्रो, एड्रियन स्मिथ, जो कर्टनी, माइक गैलाघर, ब्रैड शर्मन, स्टीव चाबोट और अमी बेरा ने जारी किया था. 

जापान, ऑस्ट्रेलिया और भारत के लिए संसद के कॉकस के सह-अध्यक्षों ने कहा कि पिछले हफ्ते की बैठक सितंबर 2021 में हुए शिखर सम्मेलन के परिणामों पर आधारित है. उन्होंने कहा कि क्वाड कोविड-19 टीकों के वितरण, मानवीय सहायता, पर्यावरण, समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद विरोधी कदमों और साइबर सुरक्षा पर सहयोग को आगे बढ़ाकर साझा मूल्यों में निहित हिंद-प्रशांत के भविष्य के लिए एक सकारात्मक दृष्टिकोण को आगे बढ़ा रहा है.

साथ ही इस  बयान में कहा गया कि QUAD एक सकारात्मक सोच है जो हिंद-प्रशांत क्षेत्र में साझा मूल्यों को आगे बढ़ा रही है और सदस्य देशों की अपनी खासियतों का इसे फायदा मिल रहा है.  

सांसदों ने साझा बयान जारी कर कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि अमेरिका, QUAD और दस देशों का समूह इंडो पैसेफिक में एसोसिएशन ऑफ साउथईस्ट एशियन नेशनन्स (ASEAN)  साथ मिलकर क्षेत्र में अमेरिकी कार्य में अपनी केंद्रीय भूमिका निभाना जारी रखेंगे.  

सांसदों ने उम्मीद जताई कि अमेरिका और क्वाड हिंद-प्रशांत में अन्य देशों और बहुपक्षीय संगठनों के साथ मिलकर काम करना जारी रखेगा. 

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
2023 में दुनिया में 14.5 मिलियन बच्चों को नहीं मिली DTP की खुराक : संयुक्त राष्ट्र
QUAD को मज़बूत होता देख खुश है अमेरिका, हिंद-प्रशांत में बहुपक्षीय सहयोग की हुई वकालत
उत्तर कोरिया पहुंचे रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन, 24 साल में पहली यात्रा, अमेरिका ने जताई चिंता
Next Article
उत्तर कोरिया पहुंचे रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन, 24 साल में पहली यात्रा, अमेरिका ने जताई चिंता
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;