Russia Ukraine War: "हम तब भी जीते...अब भी जतेंगे", Victory Day पर Putin को Volodymyr Zelensky का जवाब

Ukraine War: "हम नाजी ताकतों के खिलाफ विजय दिवस (Victory Day) मना रहे हैं. हमें अपने पूर्वजों पर गर्व है जिन्होंने दूसरे देशों के साथ मिलकर हिटलर विरोधी गठबंधन में साथ दिया और नाजी ताकतों को हराया.अब हम किसी को भी अपनी इस विजय को को छीनने का मौका नहीं देंगे. :- यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की

Russia Ukraine War:

Victory Day पर रूस यूक्रेन के खिलाफ एक "बड़ी बढ़त" बनाने की कोशिश में था

रूस (Russia) में द्वितीय विश्व युद्ध (Second Workd War) में नाजी जर्मनी (Nazi Germany) पर अपनी जीत का वार्षिक जश्न (Victory Day) मनाते हुए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन (Vladimir Putin) ने कहा है कि रूस (Russia) को यूक्रेन (Ukraine) में बिल्कुल अस्वीकार्य खतरा का सामना करना पड़ रहा था. रूस की सेना यूक्रेन में अपनी "मातृभूमि" की रक्षा कर रही है.  उधर सोवियत यूनियन की ओर से नाजी जर्मनी को हराए जाने को याद करने वाले इस मौके पर यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की (Volodymyr Zelensky) ने कहा है कि यूक्रेन रूस को द्वितीय विश्व युद्ध जैसी जीत का मौका दोबारा नहीं देगा. उन्होंने कहा, आज हम नाजी ताकतों के खिलाफ विजय दिवस (Victory Day) मना रहे हैं. हमें अपने पूर्वजों पर गर्व है जिन्होंने दूसरे देशों के साथ मिलकर हिटलर विरोधी गठबंधन में साथ दिया और नाजी ताकतों को हराया.  

अब हम किसी को भी अपनी इस विजय को को छीनने का मौका नहीं देंगे. " जेलेंस्की ने साथ कहा, "हम तब जीते थे, अब अब भी जीतेंगे." 

वहीं एक तरफ जहां रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन सोमवार को मारियोपोल के आखिरी यूक्रेनी रक्षकों के समर्पण के सात विजय दिवस मनाने की उम्मीद कर रहे हैं लेकिन उनके कमांडर ने एक जूम  मीटिंग में कहा कि उन्हें इसके लिए इंतजार करना पड़ेगा. रविवार को एक एक बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए Azovstal steel factory को बचाने Azov regiment के एर खुफिया अधिकारी ने कहा कि समर्पण आत्महत्या की कीमत पर होगा. उन्हें कहा कि उनके पास कुछ दिन और लड़ने के लिए खाना और हथियार हैं. 

इससे पहले रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रविवार को द्वितीय विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी की हार की 77 वीं वर्षगांठ पर पूर्व सोवियत देशों को बधाई दी और कहा कि "1945 की तरह ही हमारी जीत होगी".

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि हमारे सैनिक, अपने पूर्वजों की तरह, अपनी मातृभूमि को नाजी से मुक्त करने के लिए कंधे से कंधा मिलाकर लड़ रहे हैं. आज, नाज़ीवाद के पुनर्जन्म को रोकना हमारा सामान्य कर्तव्य है, जिससे विभिन्न देशों के लोगों को बहुत पीड़ा हुई." उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि "नई पीढ़ियां अपने पिता और दादा की स्मृति के योग्य हो सकती हैं".

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुतिन ने आगे कहा कि दुर्भाग्य से, आज, नाज़ीवाद एक बार फिर अपना सिर उठा रहा है. हमारा कर्तव्य उन लोगों के वैचारिक उत्तराधिकारियों को रोकना है जो द्वितीय विश्व युद्ध में हार गए थे". उन्होंने ये भी कहा कि वे "यूक्रेन के सभी निवासियों के शांतिपूर्ण और न्यायपूर्ण भविष्य" की कामना करते हैं.