यूक्रेन में परमाणु हथियारों के इस्तेमाल को लेकर पुतिन मजाक नहीं कर रहे : जो बाइडेन

जो बाइडेन ने कहा कि क्यूबा मिसाइल संकट के बाद पहली बार हमें परमाणु हथियारों के उपयोग का सीधा खतरा है. चीजें जिस तरह से आगे बढ़ रह हैं, हम उसी रास्ते पर जा रहे हैं. 

यूक्रेन में परमाणु हथियारों के इस्तेमाल को लेकर पुतिन मजाक नहीं कर रहे  : जो बाइडेन

जो बाइडेन ने परमाणु युद्ध को लेकर कही ये बात

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गुरुवार को कहा कि विश्व शीत युद्ध के बाद पहली बार परमाणु जंग के मुहाने पर खड़ी है और वे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और यूक्रेन के बीच पैदा हुए इस खतरनाक युद्ध के बीच इससे बचने का रास्ता खोज रहे हैं.  बाइडेन ने न्यूयॉर्क में डेमोक्रेटिक पार्टी के फंडरेजिंग  कार्यक्रम में कहा कि हमने 1962 में कैनेडी और क्यूबा के मिसाइल संकट के बाद परमाणु जंग की संभावना का सामना नहीं किया. बाइडेन ने कहा कि पुतिन "मजाक नहीं" कर रहे. जब उन्होंने यूक्रेन पर अपने आक्रमण को आगे बढ़ाने के लिए परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करने की धमकी दी.

मुगल रूपर्ट मर्डोक के बेटे जेम्स मर्डोक के मैनहट्टन वाले घर में आयोजित एक कार्यक्रम में पार्टी समर्थकों से बात करते हुए बाइडेन ने पुतिन के परमाणु खतरों से उत्पन्न जोखिमों के बारे में कड़ी टिप्पणी की.

बाइडेन ने कहा कि क्यूबा मिसाइल संकट के बाद पहली बार हमें परमाणु हथियारों के उपयोग का सीधा खतरा है. चीजें जिस तरह से आगे बढ़ रह हैं, हम उसी रास्ते पर जा रहे हैं. 

बाइडेन ने कहा कि यूक्रेन में रूस के पास कम विकल्प रहे गए हैं. ऐसे में पुतिन परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की धमकी दे रहे हैं.  उन्होंने आगे कहा कि रूस की तरफ से यूक्रेन में छोटे परमाणु हमले भी किए जाते हैं तो उस क्षेत्र में इसका दूरगामी असर होगा. इसके बाद व्यापक संघर्ष पैदा होने का जोखिम होगा. इससे पहले जानकारों ने कहा था कि यूक्रेन के खिलाफ युद्ध में रूस छोटे परमाणु हमले कर सकता है.

पुतिन ने कहा कि मैं उस शख्स को अच्छी तरह जानता हूं.पुतिन जब कह रहे हैं कि वह परमाणु और रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल कर सकते हैं तो वह मजाक नहीं कर रहे, क्योंकि रूसी सेना यूक्रेन में उस तरह का प्रदर्शन नहीं कर पा रही जिसकी वह उम्मीद करते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

बता दें कि यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर ज़ेलेंस्की ने बुधवार को कहा था कि देश के दक्षिणी खेरसॉन इलाके में उन्होंने तीन गांवों को रूसी कब्जे से मुक्त करवा लिया है. नोवोवोस्क्रेसेन्सके, नोवग्रेगोरिव्का और पेट्रोपेवलिवका वो तीन गांव हैं जिन्हें मुक्त करवाया गया है. ज़ेलेंस्की ने बताया कि इन तीनों गांवों को पिछले 24 घंटों में मुक्त करवाया गया है. यूक्रेन के राष्ट्रपति ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट कर यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि यूक्रेन का जवाबी हमला जारी है.  इससे पहले अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन करते हुए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के चार प्रांतों का अपने देश में विलय करने वाले कानून पर हस्ताक्षर किए थे.  रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के दोनेत्स्क, लुहांस्क, खेरसॉन और जोपोरिज्जिया क्षेत्रों पर कब्जा जमाने की शुक्रवार को घोषणा की थी. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)