UP हिंसा : शामली में सड़कों पर उतरे किसान, हाइवे पर लेटकर कर रहे हैं विरोध-प्रदर्शन

किसानों का आरोप है कि लखीमपुर में हुई घटना के पीछे बीजेपी नेताओं का हाथ है.

UP हिंसा : शामली में सड़कों पर उतरे किसान, हाइवे पर लेटकर कर रहे हैं विरोध-प्रदर्शन

किसानों ने नेशनल हाईवे पर लेट कर अपना विरोध प्रकट किया.

लखनऊ:

यूपी के लखीमपुर खीरी जिले में हुई हिंसा के विरोध में शामली में किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सवित मलिक के नेतृत्व में किसानों ने धरना दे दिया है. किसानों के साथ नेशनल किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष के दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर धरने पर बैठ गए. किसानों ने बर्बरता के विरोध में नेशनल हाईवे पर लेट कर अपना विरोध प्रकट किया है. 

किसानों का आरोप है कि लखीमपुर में हुई घटना के पीछे बीजेपी नेताओं का हाथ है. उसी को लेकर किसानों ने यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को बर्खास्त करने व दोषियो को फांसी को सजा की मांग की है. 

किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने 'योगी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी' के नारे लगाए. किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर किसानों के साथ लेट कर धरना दिया है. वहीं, धरना दे रहे किसान नेता सवित मलिक सड़क पर लेट कर रोने लगे. धरना स्थल पर सीओ सिटी और एसडीएम सदर भारी पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं. आमजन की आवाजाही के लिए रूट डायवर्ट किया गया है. 

किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सवित मलिक का आरोप है कि किसान शांतिपूर्वक धरना दे रहे थे. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे ने निहत्थे और बेकसूर किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ा कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. हम लोग शांतिपूर्वक धरना दे रहे थे. जबकि, सरकार तानाशाही चला रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यूपी के लख‍ीमपुर खीरी में हिंसा, 4 किसानों समेत 8 की मौत