यूपी: कोरोना के संदिग्ध को लेने गई डॉक्टर्स और पुलिस की टीम पर लोगों ने बरसाए पत्थर, Video आया सामने

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में डॉक्टरों की टीम पर हमला करने का मामला सामने आया है. कोरोनावायरस (Coronavirus) के संदिग्ध मरीज को अस्पताल ले जाने के लिए पहुंचे डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ की टीम पर स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया.

यूपी: कोरोना के संदिग्ध को लेने गई डॉक्टर्स और पुलिस की टीम पर लोगों ने बरसाए पत्थर, Video आया सामने

मुरादाबाद: कोरोना के संदिग्ध व्यक्ति की जांच के लिए पहुंची डॉक्टर्स और पुलिस की टीम पर हमला

मुरादाबाद:

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में डॉक्टरों की टीम पर हमला करने का मामला सामने आया है. कोरोनावायरस (Coronavirus) के संदिग्ध मरीज को अस्पताल ले जाने के लिए पहुंचे डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ की टीम पर स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया. मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले कई लोग घायल हो गए. इतना ही नहीं, डॉक्टरों, पैरा मेडिकल टीम और एंबुलेंस की सुरक्षा के लिए तैनात पुलिस टीम पर भी हमला किया गया. यह घटना मुरादाबाद के नवाबपुरा पुलिस थाने क्षेत्र में घटित हुई. 

लोगों ने स्वास्थ्य विभाग की टीम पर पथराव कर दिया, जिससे 108 की दो गाड़ियां और पुलिस की दो तीन गाड़ियों के शीशे क्षतिग्रस्त हो गई. पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ा. पथराव करने वाले लोगों की पुलिस घरों में खोजबीन कर रही है. मौके पर पहुंचे एसपी सिटी अमित कुमार आनंद द्वारा जायजा लिया गया. ड्रोन कैमरे की मदद से छतों पर देखा गया.

वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिस और मेडिकल स्टॉफ के वाहनों पर स्थानीय लोगों ने पत्थरों और ईंट से हमला करके शीशे तोड़ डाले. गलियों में बहुत सारे पत्थर और ईंटें गिरी हुई दिखाई दीं, जो COVID-19 संदिग्ध के घर तक जाती हैं. एंबुलेंस के ड्राइवर ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि कुछ लोगों ने मेडिकल टीम और पुलिस पर पथराव किया जो लोग COVID-19 के संक्रमित व्यक्ति को लेने गए थे. जब हमारी टीम मरीज के साथ एम्बुलेंस में सवार हुई, तो अचानक भीड़ उमड़ी और पथराव शुरू कर दिया. कुछ डॉक्टर अभी भी वहीं हैं. हम घायल हो गए."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यूपी सरकार के मुताबिक मुरादाबाद जिले में अभी तक 19 कोरोनावायरस के मामले पॉजिटिव पाये गए हैं. कुछ दिन पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया था कि राज्य में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने वाले डॉक्टरों, पुलिसकर्मियों या अन्य लोगों पर हमला करने वालों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लागू किया जाए.