PF Account : कहीं आपके पास एक से ज्यादा UAN नंबर तो नहीं? डिएक्टिवेट कराना जरूरी, यहां देखें कैसे होगा

अगर एक व्यक्ति लगातार जॉब चेंज करता रहता है तो ऐसी सूरत में उनके पास एक से ज्यादा UAN नंबर हो सकते हैं. उसे EPF अकाउंट ट्रांसफर करके पुराना UAN डिएक्टिवेट कर देना चाहिए. यहां हम आपको आसान तरीका बता रहे हैं जिससे आप अपने 2 UAN नंबर मर्ज कर सकते हैं. 

PF Account : कहीं आपके पास एक से ज्यादा UAN नंबर तो नहीं? डिएक्टिवेट कराना जरूरी, यहां देखें कैसे होगा

UAN Numbers एक से ज्यादा हों तो इन्हें आपस में मर्ज करा लेना चाहिए.

नई दिल्ली:

Universal Account Number (UAN) एक यूनिक नंबर है जो EPFO मेंबर्स (Employee Provident Fund Organisation) को अलॉट किया जाता है. EPFO गाइडलाइन्स के मुताबिक हर प्रोविडेंट फंड (PF) सदस्य के पास एक ही UAN नंबर होना चाहिए. अगर एक व्यक्ति लगातार जॉब चेंज करता रहता है तो ऐसी सूरत में उनके पास एक से ज्यादा UAN नंबर हो सकते हैं. ऐसी स्थिति में उसे EPF अकाउंट ट्रांसफर करके पुराना UAN डिएक्टिवेट कर देना चाहिए. यहां हम आपको आसान तरीका बता रहे हैं जिससे आप अपने 2 UAN नंबर मर्ज कर सकते हैं. 

EPFO को रिपोर्ट करें 

आप अपनी समस्या के बारे में EPFO को मेल कर सकते हैं. इसके लिए आप uanepf@epfindia.gov.in पर ई-मेल भेजकर अपनी प्रॉब्लम बता सकते हैं. आपको आपना पुराना और नया UAN मेंबर आईडी के साथ शेयर करना होगा. 

वेरिफिकेशन प्रोसेस


एक बार जब आपका ई-मेल EPFO तक पहुंच जाएगा तब ऑर्गनाइजेशन आपके मेल में दी गई डीटेल्स को वेरिफाई करेगा. वेरिफिकेशन पूरी होने के बाद आपका पुराना UAN इनएक्टिव हो जाएगा और दूसरा एक्टिव रहेगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* Aadhaar-UAN Linking अनिवार्य है, ऐसे चेक करें आपका PF अकाउंट आधार से लिंक है या नहीं
* PF अकाउंटहोल्डर्स! तुरंत करा लें ई-नॉमिनेशन वर्ना इंश्योरेंस और पेंशन का लाभ लेने में होगी परेशानी

EPF ट्रांसफर करने का तरीका 

  • सबसे पहले EPFO पोर्टल पर लॉगिन करें और UAN, पासवर्ड और कैप्चा एंटर करें. 
  • अब ‘One Member-One EPF Account' ऑप्शन पर क्लिक करें .
  • अगले पेज पर चेक कर लें कि आपकी डाली गईं डीटेल्स सही हैं या नहीं.
  • ‘Get details' पर क्लिक करें और PF डीटेल चेक करें और इसके बाद  ‘Get OTP' ऑप्शन पर क्लिक करना होगा. 
  • आपके मोबाइल पर आपको  OTP रिसीव होगा, इसे सबमिट करें.
  • इसके बाद आपको फॉर्म-13 पर अपने मौजूदा और पिछले एंप्लॉयर की डीटेल डालनी होगी.
  • फॉर्म भरने के बाद एक ट्रैकिंग आईडी जेनेरेट होगी, जिससे ट्रांसफर की प्रोग्रेस ट्रेक की जा सकती है. 
  • इस साइन का प्रिंट आउट निकालकर 10 दिन के अंदर साइन करके अपने एंप्लॉयर को दें. 
  • एंप्लॉयर के अप्रूवल के बाद आपका EPF ट्रांसफर हो जाएगा.