'Rajasthan politics' - 335 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | सोमवार जनवरी 4, 2021 02:09 PM IST
    बसपा और भाजपा विधायक की याचिका पर यह सुनवाई हो रही है. हालांकि 24 अगस्त को 6 बीएसपी विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा विधायक मदन दिलावर की याचिका खारिज कर दी थी. जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि इस मामले पर राजस्थान हाईकोर्ट का फैसला आ गया है इसलिए अब मामले में सुनवाई का कोई मतलब नहीं है.
  • India | शुक्रवार अक्टूबर 9, 2020 05:59 PM IST
    केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने राजस्थान (Rajasthan) में पुजारी की जिंदा जलाकर हत्या की घटना को लेकर कहा है कि ''राजस्थान में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को भारत दर्शन करने के बजाय राजस्थान के जिले-जिले में जाना चाहिए. वे राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) से या तो इस्तीफा ले लें, या फिर सुधार करने के लिए कवायद करें. वे कुछ नहीं करेंगे, केवल राजनीति करेंगे. यह राजनीति भी लोग बर्दास्त नहीं करेंगे. करौली में पुजारी की हत्या बेहद संगीन मामला है. इस पर सरकार को फौरन एक्शन लेना चाहिए. राहुल गांधी को वहां तुरंत पहुंचना चाहिए.''
  • India | शुक्रवार अक्टूबर 9, 2020 04:46 PM IST
    राजस्थान (Rajasthan) में जमीन विवाद को लेकर मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाने की घटना पर भारतीय जनता पार्टी के सांसद  राज्यवर्धन राठौड़ (Rajyavardhan Singh Rathore) ने राज्य की कांग्रेस सरकार (Congress Government) और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को निशाना बनाया है. राज्यवर्धन राठौड़ ने इस घटना को लेकर कहा कि ''राजस्थान के अंदर आज कोई सुरक्षित नहीं है, न महिला, न बच्चे. पुलिस का मनोबल गिर रहा है. यहां तक कि मंदिर में पूजा करने वाले पुजारी तक सुरक्षित नहीं हैं. जो सरकार महिनों तक पांच सितारा होटल में रहती है वह अपनी ही सुरक्षा कर सकती है, जनता की नहीं.''
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 03:33 PM IST
    सचिन पायलट ने अपनी सीट में हुए बदलाव के बारे में बोलते हुए कहा, 'इस सरहद पर कितनी भी गोलीबारी हो, मैं कवच और भाला लेकर सरकार को बचाने के लिए खड़ा हूं. मुझे सरहद पर बैठाया गया है, सरहद पर सबसे मजबूत योद्धा को भेजा जाता है.' पायलट ने राजेंद्र राठौड़ को उनके भाषण के बीच में रोककर यह कहा है.
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 09:39 AM IST
    गुरुवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक (Congress Legislature Party Meeting) हुई थी. इस दौरान गहलोत ने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा, 'जो बातें हुईं, उन्हें अब भूल जाओ. हम इन 19 विधायकों के बिना भी बहुमत साबित कर देते लेकिन फिर वह खुशी नहीं मिलती क्योंकि अपने तो अपने होते हैं. हम विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव लाएंगे.'
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 09:03 AM IST
    राजस्थान कांग्रेस में चली महीने भर की खींचतान के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार से शुरू हो रही विधानसभा के विशेष सत्र में भारतीय जनता पार्टी की चुनौती का सामना कर रहे हैं. बीजेपी ने गुरुवार को घोषणा की थी कि पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगी. यानी अब गहलोत को सदन में अपना बहुमत साबित करना होगा. गहलोत शुरू से ही दावा करते रहे हैं कि उनके पास बहुमत का आंकड़ा है. यहां तक कि सचिन पायलट सहित 19 विधायकों के बगावत कर देने के बावजूद भी वो गवर्नर से इस दावे के साथ मिले थे कि उनके पास बहुमत है. लेकिन ये तो तय था कि विधानसभा सत्र शुरू होने के बाद उन्हें अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ सकता है.
  • India | गुरुवार अगस्त 13, 2020 02:38 PM IST
    राजस्थान (Rajasthan) विधानसभा का विशेष सत्र कल (शुक्रवार) से शुरू हो रहा है. प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) और बीजेपी (BJP) नेताओं ने आज (गुरुवार) सत्र को लेकर मुलाकात की. कांग्रेस (Congress) में मची आंतरिक कलह के बाद यह बीजेपी नेताओं की पहली मीटिंग है. सोमवार को सचिन पायलट (Sachin Pilot) अपने समर्थक विधायकों के साथ घर वापसी कर चुके हैं और इसी के साथ गहलोत सरकार पर बना कथित संकट खत्म हो गया.
  • India | गुरुवार अगस्त 13, 2020 01:10 PM IST
    मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट्स में लिखा, 'कांग्रेस की लड़ाई तो सोनिया गांधी जी और राहुल गांधी जी के नेतृत्व में डेमोक्रेसी को बचाने की है. पिछले एक माह में कांग्रेस पार्टी में आपस में जो भी नाइत्तेफ़ाकी हुई है, उसे देश के हित में, प्रदेश के हित में, प्रदेशवासियों के हित में और लोकतंत्र के हित में हमें फॉरगेट एन्ड फॉरगिव, आपस में भूलो और माफ करो और आगे बढ़ो की भावना के साथ डेमोक्रेसी को बचाने की लड़ाई में लगना है.'
  • India | गुरुवार अगस्त 13, 2020 10:29 AM IST
    सचिन पायलट और उनके समर्थन में उतरे 18 बागी विधायकों ने सोमवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से मिलकर अपनी बात रखी थी और सुलह कर लिया था, इसके बाद ये सभी लोग राजस्थान लौट आए हैं. हालांकि, उन्हें लौटे हुए 48 घंटों से ज्यादा का वक्त हो गया है लेकिन अभी तक न ही उनसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुलाकात की है, न ही नए प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने.
  • India | गुरुवार अगस्त 13, 2020 09:32 AM IST
    राजस्थान कांग्रेस (Rajasthan Congress) के लिए गुरुवार का दिन काफी बड़ा है. महीने भर चली सियासी उठापटक के बाद मामला शांत हो गया है और शुक्रवार को कांग्रेस-बीजेपी दोनों विधायकों की बैठक कर रहे हैं. शुक्रवार से राजस्थान विधानसभा सत्र की शुरुआत हो रही है, ऐसे में अशोक गहलोत को विश्वास मत पेश करना पड़ सकता है. इसके अलावा गहलोत की चिंता में सुप्रीम कोर्ट और राजस्थान हाईकोर्ट में आज होने वाली एक सुनवाई भी शामिल होगी. सुप्रीम कोर्ट और राजस्थान हाईकोर्ट में आज कांग्रेस में बीएसपी विधायकों के विलय पर (BSP MLAs merger in congress) सुनवाई होनी है. इस मामले इस विलय को अवैध घोषित किए जाने की मांग वाली याचिका डाली गई है. अगर आज फैसला आता है और गहलोत को अपने समर्थन के छह विधायकों से हाथ धोना पड़ सकता है.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com