TENNIS: अंकिता रैना को मिली ऑस्ट्रेलिया ओपन के मुख्य ड्रॉ में जगह, पांचवी भारतीय खिलाड़ी बनीं

Tennis: अंकिता (Ankita Raina) ने कहा कि पहले उन्होंने ड्रॉ में अपना नाम नहीं देखा तो उन्हें काफी निराशा हुई. उन्होंने कहा, ‘मुझे इस पर विश्वास नहीं हुआ. मुझे ड्रॉ में अपना नाम नहीं दिखा. अभ्यास के बाद मैंने ड्रॉ देखा और उत्सुकता में अपना नाम ढूंढा, लेकिन मुझे अपना नाम नहीं दिखा. इसके बाद मेरे कोच ने मुझे बताया कि मुझे ड्रा में जगह मिली है.’

TENNIS: अंकिता रैना को मिली ऑस्ट्रेलिया ओपन के मुख्य ड्रॉ में जगह, पांचवी भारतीय खिलाड़ी बनीं

मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने वाली अंकित रैना

मेलबर्न:

भारत की टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना (Ankita Raina) को ऑस्ट्रेलियाई ओपन के महिला युगल के ड्रॉ में जगह मिली है. इस तरह से वह किसी ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने वाली पांचवीं भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ी बन गयी है. वर्ष का पहला ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट सोमवार से शुरू होगा. अंकिता (Ankita Raina) महिला एकल के मुख्य ड्रॉ में जगह नहीं बना पायी, लेकिन उनके पास पहले दौर के मैच समाप्त होने से पहले तक ‘लकी लूजर' के तौर पर क्वालीफाई करने का मौका रहेगा. इस 28 वर्षीय भारतीय खिलाड़ी ने हालांकि रोमानिया की मिहेला बुजारनेकु के साथ जोड़ी बनायी है और उन्हें महिला युगल में सीधा प्रवेश मिला है. निरुपमा मांकड़ (1971), निरुपमा वैद्यनाथन (1998), सानिया मिर्जा और भारतीय अमरीकी शिखा ओबरॉय (2004) इससे पहले ग्रैडस्लैम के मुख्य ड्रा में जगह बनाने वाली भारतीय महिला खिलाड़ी थी.

टूर्नामेंट में जोकोविच, नडाल और सेरेना के पास इतिहास रचने का मौका 

छह बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन सानिया के बाद अंकिता दूसरी भारतीय हैं, जो ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के महिला युगल में भाग लेंगी. निरुपमा ने सबसे पहले 1998 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन में ही एकल के मुख्य ड्रा में जगह बनायी थी, जबकि निरुपमा मांकड़ ने 1971 में आनंद अमृतराज के साथ विंबलडन के मिश्रित युगल में भाग लिया था. शिखा ने 2004 के यूएस ओपन के एकल में भाग लिया था और दूसरे दौर में जगह बनायी थी. अंकिता ने कहा, ‘यह ग्रैंडस्लैम का मेरा पहला मुख्य ड्रॉ है. इसलिए, यह एकल है या युगल मैं इससे खुश हूं. कई वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद मैं यहां तक पहुंची हूं. केवल कड़ी मेहनत ही नहीं बल्कि लोगों के सहयोग और आशीर्वाद से भी मैं यहां पहुंच पायी हूं. मैं इसे नहीं भूल सकती.'

ऑस्ट्रेलिया ओपन शुरू होने से पहले ही तीन लोग पाए गए कोरोना पॉजिटिव

अंकिता ने कहा कि पहले उन्होंने ड्रॉ में अपना नाम नहीं देखा तो उन्हें काफी निराशा हुई. उन्होंने कहा, ‘मुझे इस पर विश्वास नहीं हुआ. मुझे ड्रॉ में अपना नाम नहीं दिखा. अभ्यास के बाद मैंने ड्रॉ देखा और उत्सुकता में अपना नाम ढूंढा, लेकिन मुझे अपना नाम नहीं दिखा. इसके बाद मेरे कोच ने मुझे बताया कि मुझे ड्रा में जगह मिली है.'अंकिता और बायें हाथ से खेलने वाली मिहेला पहले दौर में वाइल्ड कार्ड से प्रवेश पानी वाली ऑस्ट्रेलियाई जोड़ी ओलिविया गाडेस्की और बेलिंडा वूलकॉक से भिड़ेंगी. अंकिता ने कहा, ‘एक मित्र ने मुझसे कहा कि मिहेला जोड़ीदार ढूंढ रही है. मैंने उससे बात की और वह तैयार हो गयी. मैं इससे पहले उसके साथ नहीं खेली हूं लेकिन मैं बायें हाथ के खिलाड़ी के साथ खेली हूं। इससे यह अच्छा संयोजन बन गया है. मैं इसको लेकर उत्साहित हूं.'

सानिया मिर्जा को युवी ने बर्थडे पर किया विश, बोले- 'हैप्पी बर्थडे मिर्ची मॉमी.."


इस तरह से साल के पहले ग्रैंडस्लैम में चार भारतीय खेलेंगे. सुमित नागल पुरुष एकल में जबकि रोहन बोपन्ना और दिविज शरण युगल में अपनी चुनौती पेश करेंगे. नागल पहले दौर में लिथवानिया के रिकार्ड्स बेरेनकिस से भिड़ेंगे। बोपन्ना ने जापान के बेन. मैकलाचलान के साथ जोड़ी बनायी है और वे पहले दौर में जी सुंग नाम और मिन कियु सोंग कोरियाई जोड़ी का सामना करेंगे. शरण और स्लोवाकिया के उनके जोड़ीदार इगोर जेलेनी पहले दौर में जर्मनी के यानिक हाफमैन और केविन क्रावित्ज से भिड़ेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. ​