नाखुशी जताने के बाद देवेंद्र फडणवीस बोले, मैंने एकनाथ शिंदे को CM बनाने का प्रस्‍ताव दिया था

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने 2019 का चुनाव जीता था, लेकिन जनादेश ‘‘चुरा’’ लिया गया.

नाखुशी जताने के बाद देवेंद्र फडणवीस बोले, मैंने एकनाथ शिंदे को CM बनाने का प्रस्‍ताव दिया था

महाराष्‍ट्र की नई सरकार में एकनाथ शिंदे सीएम और देवेंद्र फडणवीस डिप्‍टी सीएम बने हैं

नागपुर :

Maharashtra News: महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने मंगलवार को कहा कि महाविकास आघाड़ी (MVA) सरकार के गिरने के बाद उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेतृत्व को एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) को नया मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया था. उन्‍होंने यह भी स्वीकार किया कि वह उप मुख्यमंत्री का पद संभालने के लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं थे लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ चर्चा और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के हस्तक्षेप के बाद अपना निर्णय बदल दिया. फडणवीस ने कहा कि भाजपा नेतृत्व का मानना था कि उन्हें सरकार का हिस्सा होना चाहिए, क्योंकि ‘‘संविधानेतर प्राधिकार'' के माध्यम से सरकार चलाना सही नहीं होगा.

संवाददाताओं से यहां बात करते हुए फडणवीस ने कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने 2019 का चुनाव जीता था, लेकिन जनादेश ‘‘चुरा'' लिया गया. इसलिए उनकी पार्टी और शिंदे के नेतृत्व वाला शिवसेना का गुट ‘‘सत्ता के लिए नहीं, बल्कि समान विचारधारा'' के लिए एक साथ आए हैं. उन्‍होंने कहा, ‘‘हमारे नेता नरेंद्र मोदी जी, अमित शाह और जेपी नड्डाजी और मेरी मंजूरी से (शिंदे को मुख्यमंत्री बनाने का फैसला लिया गया)... यह कहना गलत नहीं होगा कि शिंदे को मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव (भाजपा नेतृत्व के पास) मैं लेकर गया था और उन्होंने (नेतृत्व ने) इसे स्वीकार कर लिया.''ज्ञात हो कि उद्धव ठाकरे के शक्ति परीक्षण से पहले मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के एक दिन बाद, शिंदे ने 30 जून को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी, जबकि फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी.

फडणवीस ने कहा, ‘‘यह भी तय किया गया था कि मैं सरकार से बाहर रहूंगा. लेकिन भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मुझे फोन किया और कहा कि पार्टी ने (मुझे उपमुख्यमंत्री बनाने का) फैसला किया है. यहां तक ​​कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी मुझसे बात की थी.''फडणवीस ने कहा कि वह उपमुख्यमंत्री का पद स्वीकार करने के लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं थे और उन्होंने मन बना लिया था कि वह बाहर से एकनाथ शिंदे सरकार की मदद करेंगे. उन्होंने कहा, “लेकिन मैंने अपने नेताओं के आदेश का पालन करते हुए अपना फैसला बदल दिया.''

* कैबिनेट में रहेंगे या जाएंगे मोदी सरकार के दो मंत्री? क्या कल की कैबिनेट मीटिंग होगी आखिरी बैठक?
* "BJP के लिए काम करता रहूंगा", पार्टी दफ्तर पहुंच बोले मिथुन चक्रवर्ती
* राहुल गांधी के वीडियो को लेकर हुए विवाद में भिड़ी दो राज्यों की पुलिस, न्यूज़ एंकर हिरासत में

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


खराब मौसम की वजह से रोकी गई अमरनाथ यात्रा, पहलगाम में ही रोके गए तीर्थ यात्री



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)