"40 की 40 सीटें दीजिए, दंगा करने वालों को उल्टा लटका देंगे" : बिहार के नवादा में बोले अमित शाह

अमित शाह ने कहा कि, नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नहीं बन सकेंगे, बिहार में अगली सरकार बीजेपी की बनेगी.

पटना:

बिहार के नवादा में रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ''जनता के बीच जाएंगे और महागठबंधन की सरकार को उखाड़ फेंकेंगे.'' उन्होंने कहा कि, ''नीतीश बाबू ( मुख्यमंत्री नीतीश कुमार) प्रधानमंत्री बनने से रहे क्योंकि देश की जनता ने तय किया है कि तीसरी बार नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने वाले हैं. अब नीतीश बाबू को वापस न लिया जाए यही जनता का मन है.'' उन्होंने कहा कि, ''लोकसभा चुनाव के बाद यह (बिहार) सरकार अपने वजन से गिरने वाली है और कमल की सरकार बनने वाली है.'' उन्होंने लोगों से कहा कि, ''40 में से 40 सीटें दीजिए, दंगा करने वालों को उल्टा लटकाकर सीधा कर देंगे.'' 

अमित शाह ने कहा कि, "बिहार की जनता ने तय कर लिया है कि सभी 40 (लोकसभा) सीटों पर मोदीजी का कमल खिलेगा. अगर किसी को कोई संदेह है कि चुनाव परिणामों के बाद बीजेपी जेडीयू को फिर से एनडीए में ले जाएगी, तो मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि बीजेपी के दरवाजे उनके (जेडीयू) लिए हमेशा के लिए बंद हो गए हैं." 

लोकसभा चुनाव के बाद बिहार सरकार गिर जाएगी

अमित शाह ने बिहार में जेडीयू-आरजेडी गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि, ''2024 के लोकसभा चुनाव के बाद यह सरकार गिर जाएगी और भाजपा सरकार बनाएगी.'' उन्होने कहा कि, "जिस सरकार के पास जंगलराज के लालू प्रसाद यादव की पार्टी है, क्या वह सरकार बिहार में शांति ला सकती है? नीतीश कुमार सत्ता की भूख के कारण लालू प्रसाद यादव की गोद में बैठ गए, हम 'महागठबंधन' सरकार को उखाड़ फेंकेंगे."   

नवादा की रैली में केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि, ''मुझे सासाराम जाना था लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति के कारण वहां लोग मारे जा रहे हैं, गोलियां चल रही हैं और आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे हैं. मैं अपनी अगली यात्रा के दौरान सासाराम जरूर आऊंगा.'' 

उन्होंने कहा कि, ''मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि राज्य में जल्द से जल्द शांति बहाल हो. यहां राज्य सरकार से बात करने का कोई मतलब नहीं है. जब मैंने राज्यपाल को फोन किया तो ललन सिंह (जेडीयू अध्यक्ष) नाराज हो गए.'' 

अमित शाह ने कहा कि, ''कांग्रेस, जेडीयू, आरजेडी, ममता (टीएमसी), डीएमके राम मंदिर का विरोध करती थीं. एक सुबह पीएम मोदी ने राम मंदिर का शिलान्यास किया और इसका निर्माण शुरू हो गया है.'' 

जेडीयू ने किया पलटवार
अमित शाह की रैली के बाद जनता दल यूनाईटेड (JDU) ने पलटवार किया. जेडीयू ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि, ''यह विकास का फर्जीवाड़ा करने वाले लोग हैं. अमित शाह पिछड़े वर्ग पर हमला करके संघी ढांचे को बर्बाद कर रहे हैं. बिहार को बदनाम किया जा रहा है.''

यह भी पढ़ें -

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

-- राजस्थान: ट्रक और पिकअप वाहन की भिड़ंत में तीन बच्चों सहित पांच लोगों की मौत
-- इस्पात ही नहीं, सभी क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर है भारत : PM मोदी