विज्ञापन
Story ProgressBack

पोर्शे हादसे का नाबालिग आरोपी स्कूल में रह चुका है बुली, महाराष्ट्र विधायक की पत्नी ने कहा, "मुझे याद है मेरे बच्चे को कैसे..."

सोनाली तानपुरे ने ट्वीट में लिखा, "कल्याणीनगर में हुए कार हादसे के बाद मुझे वो चीजें एक बार फिर याद आ गईं... इस हादसे से जुड़ा लड़का उसी क्लास में था, जिसमें मेरा बच्चा था. उस वक्त मेरे बच्चे को कुछ क्लासमेट द्वारा काफी बुलिंग का सामना करना पड़ा था".

Read Time: 3 mins
पोर्शे हादसे का नाबालिग आरोपी स्कूल में रह चुका है बुली, महाराष्ट्र विधायक की पत्नी ने कहा,
विधायक की पत्नी ने ट्वीट करते हुए बताया कि उनका बच्चा और पोर्शे का नाबालिग ड्राइवर एक ही क्लास में थे.
मुंबई:

पुणे में 17 साल के नाबालिग लड़के (Pune Porsche Crash) ने 19 मई की रात को एक मोटरसाइकिल में अपनी पोर्शे कार से टक्कर मार दी थी, जिसके कारण मोटरसाइकिल पर सवाद दोनों 24 वर्षीय इंजीनियरों की मौत हो गई थी. जानकारी के मुताबिक, पोर्शे चला रहा नाबालिग अपने स्कूल में भी क्लासमेट को बुली कर चुका है. नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के एमएलए और पूर्व मंत्री प्राजक्त तानपुरे की पत्नी ने आरोप लगया है कि उनका बेटा भी उसी नाबालिग के साथ एक ही स्कूल और एक ही क्लास में था, को अपने क्लासमेट्स के कारण काफी बुलिंग का सामना करना पड़ा है. 

बता दें कि नाबालिग ड्राइवर पुणे के रियल एस्टेट एजेंट का बेटा है, जिन्हें इस मामले में गिरफ्तार कर लिया है. सोनाली तानपुरे ने अपने ट्वीट में लिखा, "कल्याणीनगर में हुए कार हादसे के बाद मुझे वो सब चीजें एक बार फिर याद आ गई हैं... इस हादसे से जुड़ा लड़का उसी क्लास में था, जिसमें मेरा बच्चा था. उस वक्त मेरे बच्चे को कुछ क्लासमेट द्वारा काफी बुलिंग का सामना करना पड़ा था. मैंने उन सभी बच्चों की शिकायत उनके माता-पिता से भी की थी."

उन्होंने बताया कि इन शिकायतों पर उन्हें कोई सही जवाब नहीं मिला और इस वजह से उन्होंने अपने बच्चे का स्कूल ही बदल दिया. सोनाली ने यह भी बताया कि उनका बच्चा आज भी बीती बातों को याद कर सहम जाता है. सोनाली ने अपनी पोस्ट में लिखा, "यदि समय रहते बुरी प्रवृत्ति वाले बच्चों पर ध्यान दिया गया होता तो शायद इतना भयानक अपराध नहीं होता". 

क्या है मामला

बता दें कि 19 मई की रात को लगभग 2 बजे के आसपास दो 24 वर्षीय इंजीनियर्स किसी पार्टी से बाइक पर लौट रहे थे और तभी नाबालिक ड्राइवर ने 200 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से पोर्शे चलाते हुए उन्हें टक्कर मार दी थी. इस वजह से दोनों बाइक सवार की मौके पर ही मौत हो गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक नाबालिग ने कार क्रैश होने से पहले बार में शराब का सेवन किया था. इस मामले में आरोपी नाबालिग को पहले जमानत दे दी गई थी. हालांकि, बुधवार को कोर्ट में हुई सुनवाई के बाद आरोपी नाबालिग की जमानत को रद्द करते हुए उसे बाल सुधार ग्रह में भेज दिया गया है. 

यह भी पढ़ें :

"मेरा बच्चा छीन लिया..." : अनीश की मां का दर्द सुन लो पोर्शे वाले रईसजादे

पुणे हिट एंड रन केस : जुवेनाइल बोर्ड ने बदला आदेश, पोर्शे से 2 लोगों को रौंदने वाले नाबालिग को भेजा रिमांड होम

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
एक्सप्लेनरः मुंबई नॉर्थ ईस्ट सीट : 48 वोट, EVM, मोबाइल, OTP वाला मामला क्या है, पूरी बात समझिए
पोर्शे हादसे का नाबालिग आरोपी स्कूल में रह चुका है बुली, महाराष्ट्र विधायक की पत्नी ने कहा, "मुझे याद है मेरे बच्चे को कैसे..."
कोटा में एक बेटी हुई पड़ोस के दरिंदों का शिकार, फिर खुद पर डीजल डाल लगाई आग
Next Article
कोटा में एक बेटी हुई पड़ोस के दरिंदों का शिकार, फिर खुद पर डीजल डाल लगाई आग
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;