झारखंड : बोर्ड परीक्षा में कृपाण उतरवाकर बिठाने का मामला, सिखों ने की कार्रवाई की मांग

Jharkhand News: प्रतिनिधिमंडल से बातचीत में उपायुक्त कुलदीप चौधरी और पुलिस अधीक्षक चन्दन कुमार झा ने इस मामले में कार्रवाई करने का आश्वासन दिया.

झारखंड : बोर्ड परीक्षा में कृपाण उतरवाकर बिठाने का मामला, सिखों ने की कार्रवाई की मांग

धार्मिक चिह्नों के साथ सिख समाज के लोग (सांकेतिक तस्वीर)

बोकारो::

झारखंड में बोकारो जिले के दुगदा पंडित बागेश्वरी पांडेय सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल में सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा में छात्र करनदीप सिंह को उसका कृपाण उतरवाकर परीक्षा में शामिल होने देने के मामले को लेकर सिख समाज में आक्रोश है. सिखों ने इस मामले में प्राचार्य और अन्य अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है. चंद्रपुरा गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के अध्यक्ष और प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने बोकारो उपायुक्त कुलदीप चौधरी को सोमवार को ज्ञापन सौंपकर स्कूल प्रबंधन समिति और स्कूल के प्राचार्य के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की.

कार्रवाई करने का आश्वासन दिया

प्रतिनिधिमंडल से बातचीत में उपायुक्त कुलदीप चौधरी और पुलिस अधीक्षक चन्दन कुमार झा ने इस मामले में कार्रवाई करने का आश्वासन दिया. प्रतिनिधिमंडल में गुरु गोविंद सिंह एजुकेशन छात्र सोसाइटी के अध्यक्ष सरदार तरसेम सिंह, केंद्रीय गुरुद्वारा प्रबंधन समिति बेरमो के अध्यक्ष सरदार गुरुनाम सिंह, चन्द्रपुर गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के प्रधान सरदार शैलेन्द्र सिंह सहित विभिन्न गुरुद्वारा प्रबंधन समितियों के सदस्य शामिल रहे.

पीएम नरेंद्र मोदी को कराया अवगत

बता दें कि इस मामले में तख्त श्री हरमंदिर साहब की कमेटी के महासचिव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अवगत करा चुके हैं. इधर, इस संबंध में अन्य गुरुद्वारा कमेटियों से बैठक करने के बाद आगे क्या कार्रवाई हो इस पर चर्चा की जाएगी. 

यह भी पढ़ें -

कुणाल कामरा फर्जी वीडियो क्लिप मामला: NCPCR ने ट्विटर के अधिकारी को समन भेजकर किया तलब

'बुलडोज़र' विवाद के बीच केजरीवाल सरकार ने BJP-संचालित MCDs से डिमॉलिशन अभियानों की रिपोर्ट तलब की

Video: हार्दिक पटेल ने पार्टी में कलह की वजह से छोड़ा कांग्रेस का साथ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)