कर्नाटक में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने के बाद बिजली के खंभे से बांधा गया, सात गिरफ्तार

घटना को “बेहद अमानवीय” करार देते हुए मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने बाद में सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “इससे पूरे समाज का सिर शर्म से झुक गया है. हमारी सरकार किसी भी कारण से ऐसे घृणित कृत्यों को बर्दाश्त नहीं करेगी.”

कर्नाटक में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने के बाद बिजली के खंभे से बांधा गया, सात गिरफ्तार

कर्नाटक में महिला को निर्वस्त्र करके घुमाया

बेलगावी (कर्नाटक),:

जिले के एक गांव में एक महिला के साथ कथित तौर पर मारपीट किए जाने और उसे निर्वस्त्र कर घुमाने के बाद बिजली के खंभे से बांधने का मामला सामने आया है. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि यह घटना महिला के पुत्र के एक लड़की के साथ भाग जाने के बाद हुई. पुलिस ने बताया कि लड़की की सगाई किसी और से होने वाली थी.

लड़की की हरकत के बारे में पता चलने पर उसके परिवार वालों ने न्यू वंटामुरी गांव स्थित लड़के के घर पर हमला कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया. पुलिस ने बताया वे (लड़की के परिजन) उसकी (लड़के की) मां को घसीट कर ले गए, उसे निर्वस्त्र कर घुमाया और बिजली के खंभे से बांध दिया. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिला को मुक्त कराया. घटना के संबंध में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है और मामले की जांच की जा रही है. किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए अतिरिक्त बल तैनात किए गए हैं.

बेलगावी के पुलिस आयुक्त सिद्धरामप्पा ने कहा कि 24 वर्षीय अशोक और 18 वर्षीय प्रियंका, दोनों एक ही समुदाय और एक ही गांव के हैं और एक-दूसरे से प्यार करते थे. उन्होंने बताया कि सोमवार रात करीब साढ़े बारह बजे दोनों गांव से भाग गए. पुलिस ने बताया कि इससे नाराज होकर लड़की के माता-पिता और रिश्तेदार लड़के के घर में घुस आए और उसकी मां के साथ अमानवीय व्यवहार किया.

उन्होंने कहा, “सुबह चार बजे सूचना मिलने पर, हमारे पुलिस उप-निरीक्षक ने गांव का दौरा किया, उसके बाद अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी वहां पहुंचे. सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है.” उन्होंने बताया कि काकाती पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है.

घटना पर टिप्पणी करते हुए मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा, “जिन लोगों ने अपराध किया है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.” घटना को “बेहद अमानवीय” करार देते हुए मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने बाद में सोशल मीडिया मंच ‘एक्स' पर एक पोस्ट में कहा, “इससे पूरे समाज का सिर शर्म से झुक गया है. हमारी सरकार किसी भी कारण से ऐसे घृणित कृत्यों को बर्दाश्त नहीं करेगी.”

उन्होंने कहा, “मामले के संबंध में कुछ लोगों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की कार्रवाई कर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाना हमारी पूरी जिम्मेदारी है.” इलाके का दौरा करने वाले गृह मंत्री जी. परमेश्वर ने इस घटना को अमानवीय करार दिया. उन्होंने बताया, लड़की के परिवार के 10-15 सदस्यों ने युवक की मां पर हमला किया, जो घर पर अकेली थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा कि पुलिस ने महिला को बचाया और उपचार के लिये अस्पताल लेकर गई. उन्होंने कहा कि मामले में गिरफ्तार आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा कि घर से जाने वाले युगल का पता लगाने और उन्हें वापस लाने का प्रयास किया जा रहा है.