विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 15, 2023

निर्वाचन आयोग कल राजनीतिक दलों के समक्ष ‘रिमोट वोटिंग मशीन’ का करेगा प्रदर्शन

सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (ईसीआईएल) द्वारा विकसित बहु-निर्वाचन रिमोट ईवीएम एक दूरस्थ मतदान केंद्र से 72 निर्वाचन क्षेत्रों को संभाल सकता है.

Read Time: 12 mins
निर्वाचन आयोग कल राजनीतिक दलों के समक्ष ‘रिमोट वोटिंग मशीन’ का करेगा प्रदर्शन
(प्रतीकात्मक तस्वीर)
नई दिल्ली:

निर्वाचन आयोग सोमवार को राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को प्रवासी मतदाताओं के लिए ‘रिमोट इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन' (आरवीएम) का प्रोटोटाइप दिखाएगा.

आयोग ने आठ मान्यताप्राप्त राष्ट्रीय दलों और 57 मान्यताप्राप्त राज्यस्तरीय दलों को सोमवार सुबह एक प्रदर्शन के लिए आमंत्रित किया है. पत्र में कहा गया है कि उन्हें ‘‘रिमोट वोटिंग का इस्तेमाल करके घरेलू प्रवासियों की मतदाता भागीदारी में सुधार पर चर्चा'' के लिए आमंत्रित किया गया है.

Advertisement

रिमोट ईवीएम के प्रदर्शन के दौरान निर्वाचन आयोग की तकनीकी विशेषज्ञ समिति के सदस्य भी मौजूद रहेंगे. प्रोटोटाइप के प्रदर्शन के लिए विभिन्न दलों को आमंत्रित करते हुए आयोग ने प्रौद्योगिकी पर एक अवधारणा नोट भी जारी किया था.

आरवीएम के इस्तेमाल की अनुमति देने के लिए कानून में आवश्यक बदलाव जैसे मुद्दों पर दलों को जनवरी के अंत तक अपने विचार लिखित रूप में देने को कहा गया था. यदि हितधारकों से परामर्श के बाद इसे लागू किया जाता है, तो प्रवासी मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए अपने गृह जिलों की यात्रा करने की जरूरत नहीं होगी.

निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने दूर-दराज के मतदान केंद्रों पर डाले गए वोट की गिनती और दूसरे राज्यों में रिटर्निंग ऑफिसर को उनके प्रसारण को एक ‘‘तकनीकी चुनौती'' बताया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि आरवीएम को मौजूदा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन पर आधारित ‘‘एक मजबूत, त्रुटिहीन और प्रभावी स्टैंड-अलोन सिस्टम'' के रूप में विकसित किया जाएगा और यह इंटरनेट से कनेक्ट नहीं होगी.

सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (ईसीआईएल) द्वारा विकसित बहु-निर्वाचन रिमोट ईवीएम एक दूरस्थ मतदान केंद्र से 72 निर्वाचन क्षेत्रों को संभाल सकता है.

Advertisement

ईसीआईएल और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड दो सार्वजनिक उपक्रम हैं जो ईवीएम का निर्माण करते हैं. आरवीएम एम3 (मार्क 3) ईवीएम के मॉडल का एक संशोधित संस्करण है, जो घरेलू प्रवासियों के लिए दूरस्थ मतदान केंद्रों-घरेलू निर्वाचन क्षेत्र के बाहर के मतदान केंद्रों पर मतदान को सक्षम बनाता है. निर्वाचन आयोग ने पिछले महीने कहा था कि पहल अगर लागू की जाती है, तो प्रवासियों के लिए ‘‘सामाजिक परिवर्तन'' हो सकता है.

यह भी पढ़ें -
-- BJP की सरकार ने कभी किसी मीडिया हाउस पर प्रतिबंध नहीं लगाया : राजनाथ सिंह
-- बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक से पहले दिल्ली में होगा पीएम मोदी का रोड शो : सूत्र

Advertisement
(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
क्या था भारत-पाकिस्तान के बीच लाहौर समझौता? जिस पर नवाज शरीफ ने मानी गलती
निर्वाचन आयोग कल राजनीतिक दलों के समक्ष ‘रिमोट वोटिंग मशीन’ का करेगा प्रदर्शन
नरेंद्र मोदी फिर मुख्यमंत्री बनें... यह क्या बोल गए नीतीश कुमार; देखें VIDEO
Next Article
नरेंद्र मोदी फिर मुख्यमंत्री बनें... यह क्या बोल गए नीतीश कुमार; देखें VIDEO
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;