विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 24, 2023

"सुरक्षाबलों का सम्मान करते हैं" ; सर्जिकल स्ट्राइक बयान विवाद के बीच दिग्विजय सिंह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने किसी भी प्रश्न का उत्तर देने से परहेज किया और कहा कि "हमने सभी प्रश्नों के उत्तर दे दिए हैं."उन्होंने कहा, "कांग्रेस पार्टी जो चाहती थी, कह चुकी है. मैंने उसी के संबंध में कल ट्वीट किया था. मैं इसके अलावा कुछ नहीं कहना चाहता."

Read Time: 4 mins
दिग्विजय सिंह के बयान को लेकर कांग्रेस पर हमलावर बीजेपी
नगरोटा:

‘सर्जिकल स्ट्राइक' पर दिग्विजय सिंह की टिप्पणी को लेकर बीजेपी अब कांग्रेस पर हमलावर हो गई हैं. अब इसी मामले को लेकर दिग्गज कांग्रेसी नेता जयराम रमेश ने मीडिया पर जमकर बरसे. उन्होंने इस मामले में सफाई देते हुए कहा कि जो कुछ कहा जाना था वह पहले ही कहा जा चुका है, और अब पीएम से सवाल पूछे जाने चाहिए. जयराम रमेश ने जम्मू-कश्मीर में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मीडिया से कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक हंगामे से जुड़े सभी प्रश्नों का उत्तर उनकी पार्टी ने दिया है और मीडिया को इसकी आवश्यकता है कि पीएम से सवाल पूछे जाए.

इस मामले की खत्म करने की कोशिश कर दिग्गज कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा, "हम सुरक्षाबलों का बड़ा सम्मान करते हैं. " राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के नगरोटा के सीतनी बाईपास से फिर शुरू हुई. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने किसी भी प्रश्न का उत्तर देने से परहेज किया और कहा कि "हमने सभी प्रश्नों के उत्तर दे दिए हैं."उन्होंने कहा, "कांग्रेस पार्टी जो चाहती थी, कह चुकी है. मैंने उसी के संबंध में कल ट्वीट किया था. मैं इसके अलावा कुछ नहीं कहना चाहता."

ट्विटर पर रमेश ने दावा किया कि यूपीए सरकार ने भी सर्जिकल स्ट्राइक की थी. साथ ही उन्होंने साफ किया, "वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह द्वारा व्यक्त किए गए विचार उनके अपने हैं और जिनका कांग्रेस से मतलब नहीं हैं. यूपीए सरकार द्वारा 2014 से पहले सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी. कांग्रेस ने राष्ट्रीय हित में सभी सैन्य कार्रवाइयों का समर्थन किया है और समर्थन करना जारी रखेगी." दिग्विजय सिंह ने कहा था कि पाकिस्तान के खिलाफ 2019 के सर्जिकल स्ट्राइक का कोई सबूत नहीं है. 

14 फरवरी, 2019 को कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकवादियों ने हमला किया था, जिसमें 44 भारतीय सीआरपीएफ जवानों को बलिदान देना पड़ा. 26 फरवरी, 2019 को भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी प्रशिक्षण शिविर को निशाना बनाया. अगले दिन, इस्लामाबाद ने भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने का प्रयास किया, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उनके इस प्रयास को विफल कर दिया.

भाजपा ने आरोप लगाया है कि विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपनी "घृणा" से "अंधा" हो गया है और उसने सशस्त्र बलों का "अपमान" किया है, जबकि इस तरह के बयान कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व के इशारे पर दिए गए हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि "गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी" करना कांग्रेस का "चरित्र" बन गया है. केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिग्विजय सिंह के कथित विवादों पर कहा कि उन्होंने "अपनी राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों की सूची में एक और जोड़ दिया है."राजनीतिक विश्लेषक तहसीन पूनावाला ने कांग्रेस नेता की टिप्पणी को पार्टी के लिए 'सेल्फ-गोल' करार दिया. 

ये भी पढ़ें : किताबों के पन्नों के बीच छिपाकर ले जा रहा था 90,000 अमेरिकी डॉलर, मुंबई एयरपोर्ट पर पकड़ा गया विदेशी नागरिक

ये भी पढ़ें : श्रद्धा केस में आज साकेत कोर्ट में 3000 से ज्यादा पेज की चार्जशीट दाखिल करेगी दिल्ली पुलिस : सूत्र

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दिल्ली में हीटस्ट्रोक से 5 लोगों ने तोड़ा दम, 12 वेंटिलेटर सपोर्ट पर, जानें जानलेवा गर्मी से कब मिलेगी राहत?
"सुरक्षाबलों का सम्मान करते हैं" ; सर्जिकल स्ट्राइक बयान विवाद के बीच दिग्विजय सिंह
बेकाबू ऑटो ने लोगों को मारी टक्कर, सीसीटीवी में कैद हुआ हादसा
Next Article
बेकाबू ऑटो ने लोगों को मारी टक्कर, सीसीटीवी में कैद हुआ हादसा
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;