विज्ञापन
Story ProgressBack

दिल्ली में आतिशी के धरना स्थल पर सिविल डिफेंस कर्मियों का 'हल्लाबोल', नौकरी की मांग को लेकर किया हंगामा

प्रदर्शन में शामिल लोगों ने आरोप लगाया कि पिछले आठ महीने से दिल्ली सरकार ने इनको बेरोजगार कर रखा है. पहले हमारी सैलरी रोकी गई और फिर हमें नौकरी से निकाल दिया गया. हम लोगों ने सिर्फ अपनी नौकरी फिर से बहाल करने की मांग की है.

Read Time: 3 mins
दिल्ली में आतिशी के धरना स्थल पर सिविल डिफेंस कर्मियों का 'हल्लाबोल', नौकरी की मांग को लेकर किया हंगामा
नई दिल्ली:

दिल्ली में पानी की किल्लत को लेकर जल मंत्री आतिशी अनिश्चितकालीन अनशन पर हैं. आतिशी का आरोप है कि हरियाणा दिल्ली को उसके हक का पानी नहीं दे रहा है. इस दौरान धरना स्थल पर शनिवार को जबरदस्त हंगामा हुआ. सैकड़ों की संख्या में सिविल डिफेंस के कर्मचारी वहां पहुंच गए और अरविंद केजरीवाल सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. सिविल डिफेंस कर्मचारियों का आरोप है कि पिछले सात-आठ महीने से ये लोग बेरोजगार हैं, उनके पास नौकरी नहीं है, खाने के लिए कुछ नहीं है. प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि प्रदर्शन के दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उन लोगों के साथ मारपीट भी की.

पानी को लेकर हंगामा

प्रदर्शन करने वाले सिविल डिफेंस कर्मचारियों का कहना है कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हमारे साथ मारपीट की. हम लोगों ने जब अपनी नौकरी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया तब हमें भाजपा का गुंडा बताया गया. इन लोगों ने हमारे ऊपर बीजेपी का गुंडा होने का ठप्पा लगाया. कोरोना काल में हम लोगों ने सबसे ज्यादा मेहनत की थी. अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की सेवा की थी, लेकिन आज सरकार हमारी मांगों को अनसुना कर रही है.

आपको बताते चलें बीते साल अक्टूबर में दिल्ली में दस हजार से अधिक सिविल डिफेंस वॉलंटियर्स की सेवाएं समाप्त कर दी गई थी.

CM के खिलाफ नारेबाजी

इस दौरान लोगों ने सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोजगार वापस देने की मांग की. नारेबाजी करने वाले वाले लोगों ने बताया कि हमसे हमारे जो रोजगार छीने गए हैं, उसे वापस देने के लिए हमने प्रदर्शन किया है. हम बस मार्शल को बिना मतलब हटाया गया है. हमारे साथ मारपीट की गई, हमें धक्के मारकर बाहर निकाला गया. हम अपने हक की मांग कर रहे हैं.

प्रदर्शन में शामिल लोगों ने आरोप लगाया कि पिछले आठ महीने से दिल्ली सरकार ने इनको बेरोजगार कर रखा है. पहले हमारी सैलरी रोकी गई और फिर हमें नौकरी से निकाल दिया गया. हम लोगों ने सिर्फ अपनी नौकरी फिर से बहाल करने की मांग की है.

अमन ने बताया कि हम बस मार्शल थे, आठ महीने से हमारे पास नौकरी नहीं है. दिल्ली सरकार ने हमारी नौकरी छीन ली, हमें सिर्फ अपनी नौकरी चाहिए. हम भाजपा के लोग नहीं हैं, हम बस मार्शल हैं और अपनी नौकरी के लिए संघर्ष कर रहे हैं.

सिविल डिफेंस कर्मियों के प्रदर्शन को लेकर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने केजरीवाल सरकार को घेरते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार ने सिविल डिफेंस के कर्मचारियों को नौकरी से बाहर निकाला. हम लोगों ने भी उनकी लड़ाई लड़ी थी, आज ये लोग जब अपनी समस्या लेकर इनके पास जा रहे हैं तो इन्हें भाजपा का कार्यकर्ता बता रहे हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
" बेटे पर गर्व है ": डोडा में शहीद हुए कैप्टन बृजेश थापा के माता-पिता
दिल्ली में आतिशी के धरना स्थल पर सिविल डिफेंस कर्मियों का 'हल्लाबोल', नौकरी की मांग को लेकर किया हंगामा
आधार कार्ड क्यों मांग रहीं कंगना रनौत? कांग्रेस हुई हमलावर- "हमारे दरवाजे सबके लिए खुले"
Next Article
आधार कार्ड क्यों मांग रहीं कंगना रनौत? कांग्रेस हुई हमलावर- "हमारे दरवाजे सबके लिए खुले"
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;