Cash for Query: निशिकांत दुबे ने आईडी-पासवर्ड साझा करने को लेकर महुआ मोइत्रा पर साधा निशाना

Cash for Query Row: पिछले दिन महुआ मोइत्रा (Mahua Moitra) ने एक इंटरव्‍यू में पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के मामले में स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से लोकसभा वेबसाइट का लॉगइन आईडी और पासवर्ड साझा किया था, ताकि कारोबारी उनकी तरफ से सवाल कर सकें.

नई दिल्ली:

Cash for Query Row: बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे (Nishikant Dubey) और  टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा (Mahua Moitra) के बीच पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के मामले में जुबानी जंग लगातार जारी है. आज बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने एक बार फिर महुआ मोइत्रा पर निशाना साधा है. उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसमें उन्होंने संसदीय पोर्टल के लॉगइन आईडी और पासवर्ड को किसी अन्य व्यक्ति के साथ साझा करने को लेकर महुआ मोइत्रा को एक बार फिर घेरा है .निशिकांत दुबे ने कहा कि टीएमसी सांसद जिस आईटी स्टैडिंग कमेटी की सदस्य हैं, उसे वो पढ़ लेती.

निशिकांत दुबे ने उठाए ये सवाल
इसके आगे बीजेपी सांसद ने लिखा, IT act 2000 के नियम 43 के अनुसार,कम्प्यूटर,डाटा,सिस्टम में glorified secretary या उनके कर्मचारियों को सिस्टम या Password की जानकारी आप सिस्टम के मालिक के Permission से दे सकते हैं . यहाँ सिस्टम के मालिक लोकसभा स्पीकर हैं या NIC है,आपने किससे पूछा,यदि नहीं तो राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ के अलावा भ्रष्टाचार में भी 3 साल जेल है. जानकारी के लिए यह सम्पत्ति संसद की है,यदि हम संसद नहीं है तो यह deposit करना है.

इससे पहले निशिकांत दुबे ने एक पोस्ट में कहा कि किसी अन्य व्यक्ति के साथ संसदीय पोर्टल लॉगइन साझा करना सरकारी निकाय एनआईसी के साथ करार का उल्लंघन है और यह सुरक्षा जोखिम है.

महुआ मोइत्रा के खिलाफ निशिकांत दुबे के लगाए ये आरोप
बता दें कि निशिकांत दुबे और महुआ मोइत्रा के बीच टकराव तब शुरू हुआ जब निशिकांत दुबे ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर महुआ के खिलाफ पैसे के बदले संसद में सवाल करने के आरोप लगाए थे. उन्होंने महुआ मोइत्रा के खिलाफ एक जांच समिति की मांग की और सदन से तत्काल महुआ मोइत्रा को निलंबित करने का आग्रह किया. उन्होंने आरोप लगाया कि महुआ मोइत्रा ने संसद में प्रश्न पूछने के लिए व्यवसायी दर्शन हीरानंदानी से रिश्वत ली थी. वहीं, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा ने केंद्रीय मंत्री निशिकांत दुबे द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया है. 

महुआ मोइत्रा ने आईडी और पासवर्ड साझा करने की बात स्वीकारी
पिछले दिन महुआ मोइत्रा (Mahua Moitra) ने इंडिया टुडे को दिये एक इंटरव्‍यू में पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने (Cash for Query Row) के मामले में स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से लोकसभा वेबसाइट का लॉगइन आईडी और पासवर्ड साझा किया था, ताकि कारोबारी उनकी तरफ से सवाल कर सकें. हालांकि, सवाल पूछने के लिए पैसे लेने से जुड़े आरोपों पर महुआ मोइत्रा ने हीरानंदानी से रिश्वत लेने के आरोपों का खंडन किया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एथिक्स कमेटी ने पेशी के लिए महुआ मोइत्रा को भेजा समन
टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा को बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे द्वारा उनके खिलाफ दायर शिकायत के संबंध में 2 नवंबर को एथिक्स कमेटी के समक्ष पेश होने के लिए समन भेजा गया है. हालांकि महुआ मोइत्रा ने 5 नवंबर तक का वक्त मांगा था.