अरुणाचल में भारत-चीन सीमा के पास 19 मजदूर लापता, तलाश जारी

कुरुंग कुमे जिले के उपायुक्त निघी बेंगिया ने जिला मुख्यालय कोलोरियांग से टेलीफोन पर एनडीटीवी को बताया कि पिछले सप्ताह जिन मजूदरों को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी, वे लापता हैं. सोशल मीडिया की पोस्ट जिसमें नदी में देखे गए एक शव की बात की गई है, उसकी जांच के लिए भी वरिष्ठ अधिकारियों और पुलिस दल को भेज दिया गया है.

अरुणाचल में भारत-चीन सीमा के पास 19 मजदूर लापता, तलाश जारी

अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा के पास मजदूर लापता

नई दिल्ली:

अरुणाचल प्रदेश के सुदूर कुरुंग कुमे जिले में 19 सड़क निर्माण श्रमिकों के एक समूह को खोजने के लिए एक तलाशी अभियान शुरू किया गया है, जो दो सप्ताह पहले एक सीमा सड़क निर्माण स्थल दामिन सर्कल से लापता हो गए थे. यह स्थल राजधानी ईटानगर से लगभग 300 किमी दूर है और चीन के साथ LAC से बहुत दूर नहीं है. बता दें कि कुमेई नदी में एक मजदूर का शव मिलने की अपुष्ट सूचना मिली है. अधिकारियों ने कहा कि इस सूचना की सत्यता की जांच के लिए टीमों को भेजा गया है.

ठेकेदार द्वारा दायर एक गुमशुदगी की शिकायत के अनुसार,  असम से आए ये 19 प्रवासी सड़क निर्माण के कार्य में लगे थे. ये  मजदूर 5 जुलाई को दामिन सर्कल में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के सड़क निर्माण स्थल पर बनाए गए श्रमिक शिविरों से कथित तौर पर भाग गए थे, जब ठेकेदार ने कथित तौर पर उन्हें पिछले सप्ताह ईद अल-अजहा मनाने के लिए असम में अपने घरों में वापस जाने के लिए छुट्टी देने से इनकार कर दिया था. पुलिस सूत्रों ने बताया कि गुमशुदगी की रिपोर्ट 13 जुलाई को स्थानीय थाने में दर्ज कराई गई थी.

कुरुंग कुमे जिले के उपायुक्त निघी बेंगिया ने जिला मुख्यालय कोलोरियांग से टेलीफोन पर एनडीटीवी को बताया कि पिछले सप्ताह जिन मजूदरों को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी, वे लापता हैं. सोशल मीडिया की पोस्ट जिसमें नदी में देखे गए एक शव की बात की गई है, उसकी जांच के लिए भी वरिष्ठ अधिकारियों और पुलिस दल को भेज दिया गया है. यह इलाका पहाड़ी इलाकों और घने जंगलों के साथ बेहद दूरस्थ है. हमारा खोज अभियान जारी है. निर्माणाधीन सड़क एक सीमा सड़क है, जो दामिन सर्कल मुख्यालय से दूरदराज के सीमावर्ती गांवों की ओर जाने वाली महत्वपूर्ण सड़क है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ये Video भी देखें :भ्रष्टाचार के खिलाफ CM योगी का एक्शन, PWD मंत्री जितिन प्रसाद के OSD को हटाया