उत्तराखंड में 'आप' के सीएम पद के उम्मीदवार रहे अजय कोठियाल बीजेपी में शामिल

उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी के नेता कर्नल अजय कोठियाल और पार्टी के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष भूपेश उपाध्याय ने पिछले सप्ताह पार्टी छोड़ दी थी

उत्तराखंड में 'आप' के सीएम पद के उम्मीदवार रहे अजय कोठियाल बीजेपी में शामिल

उत्तराखंड के आम आदमी पार्टी के नेता अजय कोठियाल देहरादून में बीजेपी में शामिल हो गए.

नई दिल्ली:

उत्तराखंड में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी (AAP) की ओर से घोषित किए गए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार कर्नल (सेवानिवृत्त) अजय कोठियाल (Ajay Kothiyal) आज देहरादून में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) की मौजूदगी में बीजेपी (BJP) में शामिल हो गए. अजय कोठियाल ने पिछले सप्ताह 18 मई को आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. उनके अलावा आम आदमी पार्टी की प्रदेश इकाई के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष भूपेश उपाध्याय ने भी पार्टी छोड़ दी थी.

कर्नल (सेवानिवृत्त) अजय कोठियाल उत्तराखंड के 2022 के विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार थे. कोठियाल और उपाध्याय ने बुधवार को अपने इस्तीफे आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अलग-अलग सौंपे थे.

पूर्व सैन्य अधिकारी अजय कोठियाल ने अपने इस्तीफे की प्रति ट्विटर पर पोस्ट करते हुए पार्टी छोड़ने के अपने फैसले की घोषणा की थी. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में गंगोत्री सीट से मैदान में उतरे कोठियाल की जमानत जब्त हो गई थी.

बताया जा रहा है कि चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी की ओर से उनके साथ किए जा रहे कथित 'व्यवहार' से कर्नल कोठियाल खुश नहीं थे. उत्तराखंड में पार्टी के प्रदर्शन का विश्लेषण करने के लिए हाल ही में दिल्ली में हुई बैठक में भी कर्नल कोठियाल को नहीं बुलाया गया था.

हालांकि कोठियाल ने अरविंद केजरीवाल को लिखे अपने पत्र में कहा था कि, ‘‘मैं 19 अप्रैल 2021 से लेकर 18 मई 2022 तक आम आदमी पार्टी का सदस्य रहा हूं. पूर्व सैनिकों, अर्धसैनिक बलों के पूर्व कर्मियों, बुजुर्गों, महिलाओं, युवाओं और बुद्धिजीवियों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए मैं 18 मई को अपना इस्तीफा आपको भेज रहा हूं.''

दूसरी तरफ 24 अगस्त, 2021 को आम आदमी पार्टी के सदस्य बने भूपेश उपाध्याय ने अपने त्याग पत्र का कारण पार्टी की विचारधारा से मोहभंग होना बताया था. उपाध्याय ने पत्र में कहा था कि, ‘‘आप का कार्यकारी अध्यक्ष बनने के बाद, मैंने महसूस किया कि यह विचारधारा और कार्यशैली से बहुत दूर है.'' उन्होंने उत्तराखंड के लिए पार्टी के वर्तमान प्रभारी और सह-प्रभारी को भी पार्टी पर ‘‘थोपा'' हुआ करार दिया था और उन पर अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए इसे ‘‘ईस्ट इंडिया कंपनी के एजेंटों'' की तरह चलाने का आरोप लगाया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अरविंद केजरीवाल ने पिछले साल अगस्त में 'आप' के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर कर्नल कोठियाल के नाम की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि पार्टी के मुख्यमंत्री चेहरे के रूप में सेना के पूर्व अधिकारी को चुनने का निर्णय राज्य के लोगों से प्राप्त प्रतिक्रिया पर आधारित है. आम आदमी पार्टी ने  उत्तराखंड की सभी 70 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे लेकिन उसे एक भी सीट पर जीत नहीं मिल सकी.