पश्चिम बंगाल: EVM लेकर TMC नेता के घर सो गया सेक्टर ऑफिसर, निलंबित

Bengal Assembly Polls: हावड़ा के उलुबेरिया उत्तर में AC 177 के सेक्टर 17 के सेक्टर ऑफिसर तपन सरकार को चुनाव आयोग ने निलंबित किया है. सरकार रिजर्व्ड ईवीएम और वीवीपैट मशीनों के साथ अपने रिश्तेदार के घर जाकर रात भर सोए थे, जो नियमों का घोर उल्लंघन है.

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल में ईवीएम मशीनों को लेकर एक नया विवाद शुरू होता दिख रहा है. यहां पर उलुबेरिया में तृणमूल कांग्रेस के एक नेता के घर से मंगलवार को रिजर्व्ड ईवीएम और वीवीपैट मशीनें मिली हैं. इसके लिए जिम्मेदार सेक्टर ऑफिसर को निलंबित कर दिया गया है. चुनाव आयोग ने इसे उसके निर्देशों का घोर उल्लंघन बताया है. आयोग ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने का फैसला किया है. 

दरअसल, उलुबेरिया में सोमवार को एक टीएमसी नेता के घर से कुछ ईवीएम मशीनें और वीवीपैट मिलने की खबरें आई थीं, जिसका संज्ञान लेने के बाद चुनाव आयोग ने इसपर कार्रवाई की है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, हावड़ा जिले के उलुबेरिया उत्तर में AC 177 के सेक्टर 17 के सेक्टर ऑफिसर तपन सरकार को आयोग ने निलंबित कर दिया है. आयोग ने बताया कि सरकार रिजर्व्ड ईवीएम और वीवीपैट मशीनों के साथ अपने रिश्तेदार के घर जाकर रात भर सोए थे. यह आयोग के नियमों का घोर उल्लंघन है.

आयोग ने कहा है कि निलंबित कर्मचारी के खिलाफ बड़ी सजा के लिए आरोप तय करेगा. सेक्टर ऑफिसर से जुड़े सेक्टर पुलिस को भी निलंबित करने का निर्देश दिया गया है. यहां से मिले ईवीएम और वीवीपैट को स्टॉक से बाहर निकाल लिया गया है और अब इन्हें चुनावों में इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: वोट TMC को लेकिन VVPAT पर दिख रही BJP, EVM गड़बड़ी की शिकायत पर EC पहुंची TMC

आयोग ने बताया कि महापर्यवेक्षक नीरज पवन ने इन ईवीएम मशीनों का सील चेक किया है. इन मशीनों को अब पर्यवेक्षक की कस्टडी के तहत दूसरी जगह पर रख दिया गया है.


बता दें कि यह घटना तब हुई है, जब मंगलवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान हो रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(ANI से इनपुट)