Weather Updates : इन राज्यों में धीमी हो सकती है मॉनसून की रफ्तार, दिल्ली में बारिश के आसार

Weather News: सोमवार को भारतीय मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि आने वाले दिनों में उत्तर पश्चिमी भारत में मॉनसून की रफ्तार धीमी हो सकती है. उत्तर और उत्तर पश्चिमी कुछ राज्यों को अब भी मॉनसून के पहुंचने का इंतजार है.

Weather Updates : इन राज्यों में धीमी हो सकती है मॉनसून की रफ्तार, दिल्ली में बारिश के आसार

IMD weather Predictions : दिल्ली और पड़ोसी राज्यों में बारिश के आसार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

Monsoon 2021 : भारत के अधिकतर राज्यों में मॉनूसन दस्तक दे चुका है. हालांकि, उत्तर और उत्तर पश्चिमी कुछ राज्यों को अब भी मॉनसून के पहुंचने का इंतजार है. सोमवार को भारतीय मौसम विभाग (India Met Dept) ने अनुमान जताया है कि आने वाले दिनों में उत्तर पश्चिमी भारत के राज्यों के कुछ हिस्सों में मॉनसून की रफ्तार धीमी हो सकती है. विभाग ने बताया कि दक्षिण पश्चिमी मॉनसून अब पूरे प्रायद्वीपीय क्षेत्र, पूर्व मध्य और पूर्व और उत्तरपूर्वी भारत और उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ा है. इसमें मॉनसून में सक्रिय गतिविधि और बिना किसी अंतराल के कम दबाव वाला क्षेत्र बनने के साथ गति आई है.

हालांकि, मध्य अक्षांशीय पश्चिमी हवाओं के आने के कारण उत्तर पश्चिम भारत के शेष हिस्सों में मॉनसून की गति धीमी होने की संभावना है. विभाग ने कहा कि वो विभाग की गति पर नजर रख रहा है.

दिल्ली में बारिश के आसार

राजधानी में भी मॉनसून के पहले में कुछ दिन बाकी हैं, इसके पहले मौसम विभाग ने सोमवार को यहां बारिश की संभावना जताई है. विभाग ने सोमवार की सुबह बताया कि दिल्ली में दक्षिण-पश्चिम मानसून के पहुंचने से पहले शहर में सोमवार को मध्यम बारिश और 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का पूर्वानुमान है. इसके अलावा कई पड़ोसी राज्यों में भी बारिश के आसार हैं.

आईएमडी ने कहा, ‘मध्य प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में, पूर्वी उत्तर प्रदेश, दिल्ली के शेष भाग और दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा तथा पंजाब के कुछ और हिस्से में अगले 48 घंटे में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं.'

चार दिन बाद पूरे पूर्वोत्तर भारत में पहुंचा मॉनसून

पिछले हफ्ते ही पूर्वोत्तर भारत के अधिकतर राज्यों में मॉनसूनी बारिश दर्ज हुई थी. मौसम विभाग ने रविवार को बताया था कि दक्षिण-पश्चिम मॉनसून सामान्य तिथि से चार दिन बाद पूरे पूर्वोत्तर भारत में पहुंच गया है. दक्षिण पश्चिम मॉनसून ने दो दिन की देरी से तीन जून को केरल में दस्तक दी थी. तीन दिन के दौरान यह पूरे केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना के हिस्सों में पहुंच गया था.


पिछले हफ्ते महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर के कई अधिकतर हिस्सों में बारिश दर्ज हुई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(भाषा से इनपुट के साथ)