राकेश टिकैत ने दी चेतावनी, '12 अक्‍टूबर तक मंत्री अजय मिश्रा का इस्‍तीफा और दोषियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो...'

3 अक्टूबर को यूपी में नेपाल बॉर्डर के ज़िले लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गयी थी, जिसमें चार किसानों की मौत हो गई थी.

राकेश टिकैत ने दी चेतावनी, '12 अक्‍टूबर तक मंत्री अजय मिश्रा का इस्‍तीफा और दोषियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो...'

लखीमपुर हिंसा मामले में किसान नेता राकेश टिकैत ने अल्‍टीमेटम जारी किया

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर हिंसा मामले में किसान नेता राकेश टिकैत ने चेतावनी दी है कि यदि 12 तारीख तक गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा का इस्तीफा और दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होती तो किसान देश भर में आंदोलन करेंगे. टिकैत ने यह बात रामपुर में कही, जहां वह किसानों के साथ मीटिंग करने आये थे. गौरतलब है कि 3 अक्टूबर को यूपी में नेपाल बॉर्डर के ज़िले लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गयी थी, जिसमें चार किसानों की मौत हो गई थी. घटना से नाराज़ किसानों ने मरने वाले किसानों का शव सड़क पर रख कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया था. 


4 अक्टूबर को सरकार से हुई समझौता वार्ता में सरकार ने मरने वाले हर किसान के परिवार को 45 लाख रुपये और घायलों को 10 लाख रुपये की मदद का एलान किया था. घटना की न्यायिक जांच का भी वादा किया था. किसान नेताओं की मांग थी कि इस कांड के मुख्य आरोपी गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार किया जाए. तब प्रशासन ने कहा था कि परिवार वालों की तहरीर पर मुक़दमा लिख लिया गया है और आगे की कानूनी प्रक्रिया पूरी की जाएगी. हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट के सरकार से यह पूछने पर की इस मामले में कितनी गिरफ्तारी हुई है, सरकार के ऊपर गिरफ्तारी का भी दबाव है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* 'कितनी गिरफ्तारियां हुईं?'- लखीमपुर खीरी हिंसा पर सुनवाई में SC ने यूपी सरकार से पूछा
* मर्डर करके चुप नहीं कराया जा सकता'- BJP MP ने शेयर किया लखीमपुर का वीडियो
* 'कोविड मामलों में करीब 20 फीसदी का उछाल, नए आंकड़ों ने फेस्टिव सीजन में बढ़ाई चिंता