एंटीलिया केस : NIA ने पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया

हिरन पांच मार्च को ठाणे जिले में क्रीक में मृत पाये गए थे. आतंकवाद रोधी दस्ता (एटीएस) हिरन मामले की जांच कर रहा है. हिरन का शव मिलने के कुछ दिनों बाद एटीएस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

एंटीलिया केस : NIA ने पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया

मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को NIA ने गिरफ्तार कर लिया है (फाइल फोटो)

मुंबई:

उद्योगपति मुकेश अंबानी (Industrialist Mukesh Ambani) के दक्षिण मुंबई (South Mumbai) स्थित आवास के पास विस्फोटकों से लदी एक एसयूवी (SUV) मिलने के मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के अधिकारी सचिन वाजे (Sachin Vaze) को 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया. यह जानकारी जांच एजेंसी के प्रवक्ता ने दी. वाजे, दक्षिण मुंबई (South Mumbai) में कंबाला हिल स्थित एजेंसी के दफ्तर में पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे थे. एनआईए (NIA) के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘सचिन वाजे को रात 11 बजकर 50 मिनट पर एनआईए मामला RC/1/2021/NIA /MUM में गिरफ्तार कर लिया गया.''

मुकेश अंबानी को धमकी के मामले में तिहाड़ जेल में बंद आतंकी तहसीन अख्तर से 6 घंटे पूछताछ

कार्माइकल रोड स्थित अंबानी के आवास के पास खड़ी एक एसयूवी (स्कॉर्पियो) में 25 फरवरी को जिलेटिन की कुछ छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला था. एनआईए ने कहा कि वाजे को 25 फरवरी को विस्फोटकों से भरा वाहन खड़ा करने में भूमिका निभाने और इसमें संलिप्त रहने को लेकर गिरफ्तार किया गया. ‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट' वाजे, ठाणे निवासी व्यवसायी मनसुख हिरन की मौत मामले में भी सवालों के घेरे में हैं. उक्त स्कॉर्पियो हिरानी के पास ही थी. हिरन पांच मार्च को ठाणे जिले में क्रीक में मृत पाये गए थे. आतंकवाद रोधी दस्ता (एटीएस) हिरन मामले की जांच कर रहा है. हिरन का शव मिलने के कुछ दिनों बाद एटीएस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

मुकेश अंबानी से जुड़े मामले में NIA ने सचिन वझे से की पूछताछ,ATS ने भी कसा शिकंजा

शनिवार को वाजे का बयान दर्ज करते हुए एनआईए ने एसयूवी मिलने और हिरन की कथित हत्या के मामलों में अब तक की गई जांच के बारे में जानकारी साझा करने के लिए अपराध शाखा के एसीपी नितिन अलकनुरे और एटीएस एसीपी श्रीपद काले को बुलाया था. अलकनुरे और काले करीब चार घंटे बाद एनआईए कार्यालय से चले गए. हिरन की पत्नी ने वाजे पर अपने पति की संदिग्ध मौत मामले में संलिप्त होने के आरोप लगाए थे. इसी हफ्ते वाजे को मुंबई अपराध शाखा से हटा दिया गया था.

Video: एनआईए ने सचिन वझे से सवालों की झड़ी लगाई, मुंबई एटीएस की भी रडार पर


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)