Covid-19 के चलते इंटरव्यू टलने से MPSC अभ्यर्थी ने की आत्महत्या : पुलिस

पुलिस ने कहा कि लोनकर ने 30 जून को अपने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने एमपीएससी परीक्षाओं को ''मायाजाल'' बताया और इन्हें न देने की अपील की.

Covid-19 के चलते इंटरव्यू टलने से MPSC अभ्यर्थी ने की आत्महत्या : पुलिस

प्रतीकात्मक तस्वीर.

पुणे:

पुणे के हडपसर में कोविड-19 महामारी के कारण महाराष्ट्र सिविल सेवा परीक्षा (Maharashtra Civil Services Exam) का अंतिम साक्षात्कार नहीं होने के चलते कथित रूप से तनाव में आए 24 वर्षीय एमपीएससी अभ्यर्थी ने अपने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. हडपसर (Hadapsar) थाने के एक अधिकारी ने कहा कि सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा धारक स्वप्निल लोनकर ने 2019 में महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षाएं पास कर ली थीं और वह अंतिम साक्षात्कार की प्रतीक्षा कर रहा था. उसने 2020 प्रारंभिक परीक्षा भी पास कर ली थी.

ग्रेटर नोएडा : मुंबई में मॉडलिंग करने वाली युवती ने 14वीं मंजिल से कूदकर की आत्महत्या

पुलिस ने कहा कि लोनकर ने 30 जून को अपने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने एमपीएससी परीक्षाओं को ''मायाजाल'' बताया और इन्हें न देने की अपील की. वरिष्ठ निरीक्षक बालकृष्ण कदम ने कहा, ''उसने कहा कि साक्षात्कार नहीं होने के कारण नकारात्मकता की भावना पैदा हो रही है और उसके आयु सीमा पार करने का जोखिम है. उसने यह भी कहा कि उसने इस उम्मीद से ऋण लिया गया था कि वह परीक्षा में सफल हो जाएगा. उसने यह भी कहा कि वह निराश था. उसके परिवार को उससे बहुत उम्मीदें थीं.'' इस बीच, लोनकर के पिता ने कहा कि राज्य सरकार की ''उदासीनता'' उनके बेटे की मौत के लिए जिम्मेदार है.

उन्होंने पत्रकारों से कहा, ''मेरे बेटे को उम्मीद थी कि उसे जल्द ही नियुक्ति मिल जाएगी क्योंकि उसने प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा पास कर ली थी. वह कर्ज का बोझ कम करके मेरी मदद करना चाहता था लेकिन अब वह हमें छोड़कर चला गया है, हम तबाह हो गए. सरकार की उदासीनता के कारण मैंने अपना बेटा खो दिया.'' लोनकर की मां ने कहा कि उनके बेटे का सपना था कि वह प्लेटलेट्स दान कर 100 लोगों की जान बचाए और उसने 28 बार प्लेटलेट्स दान किया.  कर्जत जामखेड़ से राकांपा विधायक रोहित पवार ने कहा कि कोविड-19 के कारण एमपीएससी परीक्षा के परिणाम निलंबित होने से युवा पीढ़ी में अवसाद बढ़ रहा है .

"मां-बाप से उपहार न लें लड़कियां": दहेज को लेकर खुदकुशी के केस में बोलीं केरल की शीर्ष अधिकारी


उन्होंने ट्वीट किया, ''मैं राज्य सरकार से सभी सावधानी बरतते हुए तत्काल परीक्षा कराने और सभी लंबित नियुक्तियों को पूरा करने का अनुरोध करता हूं.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(अगर आपको सहायता की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)

हेल्‍पलाइन :
1) वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ - 1860-2662-345 अथवा help@vandrevalafoundation.com
2) TISS iCall - 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)