बिहार में मुख्यमंत्री के जनता दरबार में कोरोना की दस्तक, 11 कोविड पॉजिटिव पाए गए

छह शिकायतकर्ता और पांच कैटरिंग के कर्मचारी पॉज़िटिव पाए गए.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस ख़बर की पुष्टि खुद जनता दरबार के बाद गिने चुने पत्रकारों के साथ बातचीत में की.

बिहार में मुख्यमंत्री के जनता दरबार में कोरोना की दस्तक, 11 कोविड पॉजिटिव पाए गए

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता दरबार में लोगों की शिकायतें सुनते हैं

पटना:

बिहार में कोरोनावायरस ने मुख्यमंत्री के जनता दरबार में भी दस्तक दे दी है. जनता दरबार में 11 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) हर सोमवार को अपने आवासीय कार्यालय में जनता दरबार करते हैं. जनता दरबार में विभाग के अनुसार जनता की शिकायतों को सुनकर उनका निपटारा करने का आदेश देते हैं .लेकिन सोमवार को पहली बार कोरोना का असर इस दरबार में दिखा, जहां छह शिकायतकर्ता और पांच कैटरिंग के कर्मचारी पॉज़िटिव पाए गए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस ख़बर की पुष्टि खुद जनता दरबार के बाद गिने चुने पत्रकारों के साथ बातचीत में की. 

बिहार: CM नीतीश कुमार से 5 गुना ज्यादा अमीर उनका बेटा, निशांत के पास कुल 3.61 करोड़ की संपत्ति

उन्होंने माना कि स्थिति गंभीर है और इस बारे में अब कोई संदेह नहीं है कि तीसरा दौर आ चुका है. इससे पूर्व जनता दरबार में आने के पहले हर शिकायतकर्ता की पहले एंटीज़न टेस्ट कराई जाती थी. इसमें छह लोगों के पॉज़िटिव पाए जाने की पुष्टि हुई. हालांकि दरबार में आने वाले सभी लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट भी उनके ज़िले में ज़िला प्रशासन द्वारा कराया जाता है

इसके बाद हर जनता दरबार के बाद मंत्रियों और अधिकारियों भोज के लिए जिस होटल को इसका कैटरिंग का ज़िम्मा दिया गया है. उसके सभी कर्मचारियों का भी टेस्टिंग अनिवार्य है. सोमवार को उसके भी पांच कर्मचारी पॉज़िटिव पाए गए.बाद में नीतीश कुमार ने माना कि स्थिति गंभीर हैं और इसलिए ऐसे कदम उठाए जा रहे हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि इस जनता दरबार के बाद नीतीश कुमार ने अपने मंत्रिमंडल के कुछ सहयोगियों के साथ गुरुद्वारा गुरु बाग़ स्थित पटना साहिब भवन का उद्घाटन किया .जो उनके पूर्व के कार्यक्रम में शामिल था.