Weather Report : दिल्ली और आसपास के इलाकों में हल्की बारिश बढ़ा सकती है कंपकंपी, कश्मीर में सर्दी का कहर जारी

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से छह डिग्री अधिक, 13.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिन में हल्की बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है.

Weather Report : दिल्ली और आसपास के इलाकों में हल्की बारिश बढ़ा सकती है कंपकंपी, कश्मीर में सर्दी का कहर जारी

दिल्ली में शनिवार को भी मध्यम बारिश होने की संभावना है.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से छह डिग्री अधिक, 13.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिन में हल्की बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. अधिकतम तापमान के 19 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का पूर्वानुमान है. दिल्ली में शनिवार को भी मध्यम बारिश होने की संभावना है. सफदरजंग वेधशाला के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण बुधवार को 7.3 मिमी बारिश दर्ज की गई. आईएमडी के अनुसार, एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के कारण पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 7 से 9 जनवरी तक हल्की से मध्यम बारिश होगी. अगले दो दिन में पंजाब, हरियाणा और उत्तरी-पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी भारी बारिश की संभावना है.

वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने कहा कि 8 जनवरी को, तेज हवा की गति के साथ बारिश होने की संभावना है, जिससे गीले जमाव और मजबूत फैलाव के कारण एक्यूआई में सुधार होगा, जिसके परिणामस्वरूप एक्यूआई 'खराब के निचले सिरे' या 'मध्यम' श्रेणी में होगा.”

बर्फबारी-बारिश से उत्तर भारत में ठंड ने दिखाए तेवर, आज इन जगहों पर बरसात के आसार; जानें मौसम का हाल

उसने अनुमान व्यक्त किया कि 9 जनवरी के बाद, अधिकतम और न्यूनतम तापमान के साथ-साथ हवा की गति में धीरे-धीरे कमी के कारण हवा की गुणवत्ता खराब होने की संभावना है, ये सभी प्रदूषकों के कम फैलाव के लिए जिम्मेदार होते हैं.

बर्फबारी रुकी, श्रीनगर हवाई अड्डे से उड़ानें शुरू

श्रीनगर में मौसम में सुधार के बाद हवाई अड्डे से उड़ानें गुरुवार को फिर से शुरू हो गईं. भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण के एक अधिकारी ने बताया कि खराब दृष्यता के कारण तड़के की कुछ उड़ानों में देरी हुई. उन्होंने बताया कि अब हवाई अड्डे से उड़ानों का सामान्य संचालन हो रहा है. बर्फबारी और खराब दृष्यता के कारण बुधवार को कश्मीर से तय 42 में से 37 उड़ानें रद्द करनी पड़ी थीं. मंगलवार को भी उड़ानें बुरी तरह प्रभावित हुई थीं. 

कश्मीर के अधिकतर हिस्सों में कड़ाके की सर्दी जारी

कश्मीर में जारी है सर्दी का कहर

कश्मीर में अभी भीकड़ाके की सर्दी जारी है और अधिकतर हिस्सों में तापमान जमाव बिंदु के करीब रहा. अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जहां बीती रात तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस था. गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, उससे एक दिन पहले रात को यहां तापमान शून्य से नीचे 4.0 डिग्री सेल्सियस था. पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 0.8 डिग्री सेल्सियस रहा, जहां रविवार रात तापमान शून्य से नीचे 0.4 डिग्री सेल्सियस था.

उन्होंने बताया कि काजीगुंड में न्यूनतम तापमान 0.4 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं, दक्षिण कश्मीर के कोकेरनाग में तापमान शून्य से नीचे 0.7 डिग्री सेल्सियस और उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में शून्य डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग ने आठ जनवरी तक मध्यम से भारी हिमपात या बारिश का पूर्वानुमान लगाया है. इस दौरान कुछ स्थानों पर भारी हिमपात की भी संभावना है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कश्मीर में 40 दिन का 'चिल्लई कलां' का दौर 21 दिसंबर से शुरू हो गया. इस दौरान क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ती है और तापमान में भी गिरावट दर्ज की जाती है, जिससे यहां की प्रसिद्ध डल झील के साथ-साथ घाटी के कई हिस्सों में पानी की आपूर्ति लाइनों सहित जलाशय जम जाते हैं. इस दौरान अधिकतर इलाकों में बर्फबारी की संभावना भी सबसे अधिक रहती है, खासकर ऊंचाई वाले इलाकों में, भारी हिमपात होता है. ‘चिल्लई कलां' के 31 जनवरी को खत्म होने के बाद, 20 दिन का ‘चिल्लई-खुर्द' और फिर 10 दिन का ‘चिल्लई बच्चा' का दौर शुरू होता है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)