कोरोना पॉजिटिव मिल्खा सिंह की हालत पहले से बेहतर है : चंडीगढ़ PGI

COVID-19 संक्रमण से जूझ रहे महान भारतीय फर्राटा धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) की हालत स्थिर है और कल से बेहतर है, जिनका इलाज चंडीगढ़ के पीजीआई अस्पताल में चल रहा है.

कोरोना पॉजिटिव मिल्खा सिंह की हालत पहले से बेहतर है : चंडीगढ़ PGI

मिल्खा सिंह चंडीगढ़ PGI में भर्ती हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • चंडीगढ़ PGI में भर्ती हैं मिल्खा सिंह
  • कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे मिल्खा सिंह
  • मिल्खा सिंह को कहा जाता है फ्लाइंग सिख
चंडीगढ़:

COVID-19 संक्रमण से जूझ रहे महान भारतीय फर्राटा धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) की हालत स्थिर है और कल से बेहतर है, जिनका इलाज चंडीगढ़ के पीजीआईएमईआर (स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान) अस्पताल में चल रहा है. अस्पताल ने शनिवार को यह जानकारी दी. मिल्खा अब भी ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं, जिनके स्वास्थ्य की निगरानी तीन डॉक्टरों की टीम रख रही है. पीजीआईएमईआर के आधिकारिक प्रवक्ता प्रो. अशोक कुमार ने बयान में कहा, ‘‘कोविड-19 के कारण बीमार फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह को तीन जून से पीजीआईएमईआर के एनएचई ब्लॉक के आईसीयू में भर्ती किया गया.''

उन्होंने कहा, ‘‘मिल्खा सिंह के चिकित्सीय मानकों के आधार पर उनकी हालत कल की तुलना में आज पांच जून को बेहतर है.'' अस्पताल ने कहा कि वह शुक्रवार की तुलना में बेहतर और स्थिर हैं. मिल्खा के परिवार ने भी एक प्रवक्ता के जरिये बयान जारी कर कहा कि यह महान खिलाड़ी ‘स्थिर है और उनकी हालत अच्छी है, लेकिन अब भी ऑक्सीजन पर हैं.

प्रवक्ता ने शनिवार सुबह से सोशल मीडिया पर जारी कुछ गलत पोस्ट का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘इन अफवाहों को अनदेखा कीजिये. यह गलत खबर है.'' मिल्खा सिंह को ऑक्सीजन के गिरते स्तर के बाद गुरूवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने भी अफवाहों को खारिज करते हुए उनके जल्द ठीक होने की कामना की. रीजीजू ने ट्वीट किया, ‘‘कृप्या इस महान एथलीट और भारत की शान मिल्खा सिंह के बारे में गलत खबरें मत चलाइये और अफवाहें मत फैलाइये. उनकी हालत स्थिर है और उनकी जल्द ठीक होने की प्रार्थना करते हैं.''

कोरोना काल में देश का हाल जानने के लिए तय किया 25 हजार KM का सफर

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिये फोन किया था. मोदी ने मिल्खा से बात की और उम्मीद जतायी कि वह जल्द ही स्वस्थ्य होकर तोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को आर्शीवाद देंगे और उन्हें प्रेरित करेंगे. मिल्खा को पिछले रविवार मोहाली में एक निजी अस्पताल में संक्रमण के इलाज के बाद छुट्टी दे दी गयी थी लेकिन घर पर भी उनके ऑक्सीजन लगी रही.

मिल्खा की 82 वर्षीय पत्नी निर्मल फोर्टिस अस्पताल के आईसीयू में है, जिन्हें पति के संक्रमित होने के कुछ दिन बाद कोविड-19 की पुष्टि हुई. मोहाली स्थित फोर्टिस अस्पताल द्वारा जारी अपडेट में कहा गया कि अफवाहों और नकारात्मक पोस्ट को देखते हुए परिवार निजता का अनुरोध करता है. बयान के अनुसार, ‘‘निर्मल मिल्खा सिंह की हालत स्थिर है. जब भी उनके माता पिता की स्थिति में बदलाव होगा तो वे (परिवार) इसकी अपडेट देगा.''

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मिल्खा सिंह के बेटे जीव से उनकी हालत की जानकारी ली. मिल्खा के बेटे और मशहूर गोल्फर जीव 22 मई को दुबई से चंडीगढ़ के आ गये थे जबकि अमेरिका में डॉक्टर उनकी बड़ी बहन मोना मिल्खा सिंह भी कुछ दिन पहले यहां पहुंच चुकी हैं. मिल्खा सिंह के नौकर भी कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए थे और आशंका है कि यह दंपति उनके संपर्क में आने से कोविड-19 पॉजिटिव हो गया. एशियाई खेलों के चार बार के स्वर्ण पदक और राष्ट्रमंडल खेलों के चैम्पियन मिल्खा सिंह 1960 रोम ओलंपिक में 400 मीटर के फाइनल में मामूली अंतर से कांस्य पदक से चूक गये थे.


VIDEO: मिल्खा सिंह की कोविड-19 से जंग, चंडीगढ़ के अस्पताल में भर्ती



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Helplines
Vandrevala Foundation for Mental Health1860-2662-345 or help@vandrevalafoundation.com
TISS iCall022-25521111 (Monday-Saturday: 8 am to 10 pm)
(If you need support or know someone who does, please reach out to your nearest mental health specialist.)