सिटीग्रुप भारत समेत 13 बड़े बाजारों से अपना कारोबार समेटेगा, जानिए अन्य कौन से देश हैं शामिल

वैश्विक बैंकिंग समूह सिटी ग्रुप (Citigroup) ने भारत, चीन समेत 12 बड़े देशों से अपना कंज्यूमर बैंकिंग कारोबार समेटने का फैसला किया है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बैंकिंग क्षेत्र में यह सबसे बड़ा झटका माना जा रहा है. 

सिटीग्रुप भारत समेत 13 बड़े बाजारों से अपना कारोबार समेटेगा, जानिए अन्य कौन से देश हैं शामिल

Citigroup का रिटेल बैंकिंग कारोबार पिछले कुछ समय से कमजोर हुआ है

नई दिल्ली:

सिटी ग्रुप के सीईओ जेन फ्रेसर (Citi Chief Executive Jane Fraser) ने कहा, ग्लोबल बैंकिंग समूह सिटी ग्रुप भारत, चीन (China, India) और 11 अन्य खुदरा बाजारों से अपना कारोबार समेट रहा है. फ्रेसर ने कहा कि इन देशों में कंपनी के पास इतने संसाधन नहीं बचे हैं कि प्रतिस्पर्धा का सामना किया जा सके. इस तरह से सिटी ग्रुप कुल 13 देशों से बैंकिंग सुविधाएं ग्राहकों को प्रदान नहीं कर पाएगा. समूह का कहना है कि वह इन 13 देशों से बैंकिंग कारोबार समेटने के बाद पूंजी प्रबंधन पर ध्यान देगा. सिटी ग्रुप अब वैश्विक कंज्यूमर बैंकिंग कारोबार में सिंगापुर, हांगकांग, लंदन और यूएई पर ध्यान केंद्रित करेगा.


वैश्विक बैंकिंग समूह सिटी ग्रुप (Citigroup) ने भारत, चीन समेत 12 बड़े देशों से अपना कंज्यूमर बैंकिंग कारोबार समेटने का फैसला किया है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बैंकिंग क्षेत्र में यह सबसे बड़ा झटका माना जा रहा है. लेकिन चीन और भारत से कारोबार समेटना कंपनी के लिए बड़ा झटका है, क्योंकि इन देशों में दुनिया की करीब 25 फीसदी आबादी है. फ्रेसर ने मार्च 2021 में ही कंपनी के सीईओ का पदभार संभाला था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उनका कहना है कि रिटेल बैंकिंग की जगह वेल्थ मैनेजमेंट में ज्यादा बेहतर संभावनाएं हैं. सिटी ग्रुप ने जिन 13 देशों से अपना कारोबार समेटा है, उनमें से ज्यादातर एशियाई देश हैं. सिटी ग्रुप का वैश्विक कंज्यूमर बिजनेस 2020 के अंत में 6.5 अरब डॉलर रह गया था. उसकी 224 खुदरा शाखाएं थीं और इनमें 123.9 अरब डॉलर की जमा पूंजी थी.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)