बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे देवेंद्र फडणवीस, शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने लगाये नारे

शिवसेना के कुछ कार्यकर्ता पूर्व मुख्यमंत्री के काफिले के नजदीक आकर विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उनके (फडणवीस के) नारे- ‘मैं वापस लौटूंगा (मुख्यमंत्री के रूप में), को मराठी में लगाने लगे.’

बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे देवेंद्र फडणवीस, शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने लगाये नारे

देवेन्द्र फडणवीस शिवाजी पार्क में बाल ठाकरे को श्रद्धांजलि देने पहुंचे

खास बातें

  • बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर भी नजर आया बीजेपी-शिवसेना का तनाव
  • देवेंद्र फडणवीस के पहुंचते ही शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने लगाये नारे
  • बीजेपी से पहले शिवसेना-कांग्रेस और NCP ने भी दी श्रद्धांजलि
मुंबई:

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस रविवार को जब शिवाजी पार्क में बाल ठाकरे को उनकी 7वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देने के बाद लौट रहे थे तब शिवसेना के कुछ कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी की. शिवसेना के कुछ कार्यकर्ता पूर्व मुख्यमंत्री के काफिले के नजदीक आकर विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उनके (फडणवीस के) नारे- ‘मैं वापस लौटूंगा (मुख्यमंत्री के रूप में), को मराठी में लगाने लगे.' साथ ही उन्होंने ''सरकार कुनौची? शिवसेना ची'' (सरकार किसकी? शिवसेना की) के नारे भी लगाये. फडणवीस और उनके काफिले में शामिल कई वरिष्ठ नेता इस पर कोई प्रतिक्रिया दिए बगैर आगे बढ़ गये. 

शिवसेना का BJP पर हमला- 'महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की पटकथा पहले से ही थी तैयार'

शिवसेना के संस्थापक को शिवाजी पार्क में श्रद्धांजलि देने के लिए जब फडणवीस पहुंचे, उस वक्त उद्धव ठाकरे के निजी सहायक मिलिंद नारवेकर को छोड़कर शिवसेना का कोई भी नेता वहां मौजूद नहीं था. इससे पहले फडणवीस ने शिवसेना के दिवंगत संरक्षक के कुछ ओजस्वी भाषणों का वीडियो ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी.

महाराष्ट्र: जिस 50-50 फॉर्मूले पर टूटा BJP-शिवसेना का गठबंधन, अब उसी ब्लूप्रिंट पर राज्य में बन सकती है नई सरकार 

वहीं बीजेपी से पहले शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के नेता भी बाला ठाकरे को श्रद्धांजलि देने पहुंचे. बीजेपी से पहले शिवाजी पार्क पहुंचे शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने एक बार फिर से यह सन्देश दिया गया कि तीनों पार्टियां राज्य में सरकार बनाने के लिए गंभीर हैं. 

महाराष्ट्र : सामने आया सरकार गठन का नया फॉर्मूला, ढाई-ढाई साल रह सकते हैं शिवसेना-NCP के CM, कांग्रेस का होगा डिप्टी CM


बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर शिवसेना एक बार फिर से शक्तिप्रदर्शन करती नज़र आई. शिवसेना पहले ही एनडीए की बैठक से बाहर हो चुकी है और अब लोकसभा और राजयसभा में विपक्ष के साथ बैठने वाली है. ऐसे में अब पार्टी भी खुले तौर पर कांग्रेस एनसीपी से नज़दीकियां बढ़ाती नज़र आ रही हैं. साथ ही यह भी उम्मीद की जा रही है कि इस हफ्ते दिल्ली में सोनिया गांधी और शरद पवार की बैठक के बाद महाराष्ट्र में नई सरकार की स्थापना जल्दी कर दी जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: महाराष्ट्र में क्या शिवसेना बनाएगी सरकार?