Yoga Asanas For Cervical: सर्वाइकल से राहत पाने के लिए 5 योगासन, जाने उन्हें करने का सही तरीका

Yoga For Cervical: सर्वाइकल पेन से बचने के लिए आम तौर पर योगासन और फिजिकल एक्सरसाइज की सलाह दी जाती है. हम आपको बताते हैं ऐसे पांच आसन जो आपको सर्वाइकल से छुटकारा दिला सकते हैं. यही नहीं इन आसनों को करने से आपको पेट की चर्बी को कम करने में भी मदद मिल सकती है.

Yoga Asanas For Cervical: सर्वाइकल से राहत पाने के लिए 5 योगासन, जाने उन्हें करने का सही तरीका

Yoga Asanas For Cervical: यहां ऐसे पांच आसन जो आपको सर्वाइकल से छुटकारा दिला सकते हैं.

Yoga Asanas That Relieve Cervical: कई लोगों को वर्क फ्रॉम होम के दौरान एक ही जगहों पर बैठे रहने से पीठ दर्द और सर्वाकल जैसी समस्याएं हो रही हैं. यह देर तक बैठने का काम करने वालों में कॉमन परेशानी पहले ही थी, लेकिन आजकल की लाइफस्टाइल के चलते यह समस्या और भी अधिक बढ़ रही है. बच्चों तक में सर्वाइकल के लक्षण देखे जा रहे हैं. ऐसे में यह समझना जरूरी है कि सर्वाइकल क्या है? इसके लक्षण कैसे पहचानें और इससे बचने के लिए किन उपायों का पालन करें. तो इस लेख में हम आपको यही जानकारी देने जा रहे हैं.

सर्वाइकल के लक्षण 

  • गर्दन में दर्द
  • हाथ और पांव में दर्द होना इसके शुरुआती लक्षण माने जाते हैं. 

सर्वाइकल से राहत पाने के लिए योग | yoga To Get Relief From Cervical

सर्वाइकल पेन से बचने के लिए आम तौर पर योगासन और फिजिकल एक्सरसाइज की सलाह दी जाती है.  हम आपको बताते हैं ऐसे पांच आसन जो आपको  सर्वाइकल से छुटकारा दिला सकते हैं. यही नहीं इन आसनों को करने से आपको पेट की चर्बी कम करने में भी मदद मिलेगी. साथ ही स्लिप डिस्क, स्पॉन्डिलाइसिस, वर्टिगो, और फ्रोजन शोल्डर जैसी समस्याओं में भी राहत मिल सकती है. आइए जानते हैं इन योगासनों को सही ढंग से कैसे किया जाए.

1. मत्स्यासन 

जमीन पर सीधे लेट जाएं. अपने हाथों को अपने हिप्स के नीचे रखें लेकिन, अपनी हथेलियों को जमीन में ऊपर रखें. सांस लेते हुए अपने सिर और छाती को जमीन से ऊपर उठाएं, छाती को ऊपर की ओर खींचते हुए, धीरे-धीरे अपने सिर को पीछे  तब तक झुकाएं जब तक कि वह धीरे-धीरे फर्श को न छू लें. अपनी कोहनी को फर्श पर रखें और अपने पूरे शरीर का वजन अपनी कोहनी पर डालें. ध्यान रहे कि आपका वजन आपके सिर पर नहीं आना चाहिए. वजन पूरा कोहनियों पर आना चाहिए.

matsyasanaYoga Asanas For Cervical: मत्स्यासन सर्वाइकल से राहत दिला सकता है

2. मकरासन

मकरासन करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं. अपनी कोहनियों को जमीन पर रख दें और हाथों को चिन पर रख दें. साथ ही, सिर और कंधों को ऊपर की और उठा लें. आपके पैरों के बीच उचित दूरी होनी चाहिए. अपने शरीर को पूरी तरह से ढीला छोड़ दें. अपने ध्यान को केंद्रित करें और सांस लेते रहें. थोड़ी देर बाद आंखें खोलें और फिर से इस आसन को दोहराएं.

3. भुजंगासन

इसको करने के लिए किसी खुली जगह पर पेट के बल लेट जाएं. अपनी चिन को जमीन पर लगाएं.  दोनों पैरों को एक दूसरे के पास लाएं, जिससे आपके दोनों पैर और एड़ी एक दूसरे को छुएं. अपनी हथेलियों को कंधों की सीध में लाएं और सांस लेते हुए अपने शरीर के अगले भाग को उठाएं और सिर को पीछे की ओर झुकाएं. ध्यान रहे कि आपकी कमर में अधिक खिंचाव न आए. अब धीरे-धीरे सांस लें और छोड़ दें. सांस को छोड़ते हुए सामान्य अवस्था में आएं. इस प्रक्रिया को दोहराएं.

qphn3asgYoga Asanas For Cervical: सर्वाइकल से राहत पाने के लिए आप भुजंगासन भी कर सकते हैं

4. धनुरासन

धनुरासन को करने के लिए पेट बेल जमीन पर लेट जाएं पैरों के बीच कम दूरी रखें और दोनों हाथों को शरीर के दोनों तरफ सीधा रखें. अब अपने घुटनों को मोड़ें और कमर के पास लाएं, इसके साथ ही एड़ियों को अपने हाथों से पकड़ें. सांस लेते हुए छाती को जमीन से ऊपर उठाएं और एड़ियों को खींचने की कोशिश करें. एड़ियों को खींचते हुए सिर को सीधा रखें.  इसी तरह से सांस लें और छोड़ें. इस तरह से आपका शरीर एक धनुष के आकार का होगा. ध्यान रहे इस आसन को करते समय अपने शरीर को अधिक न कसें.  कुछ देर बाद सांस खींचते हुए अपने पैर और छाती को फिर से सामान्य स्थिति में वापस लाएं.

5. सूर्य नमस्कार


सूर्य नमस्कार करने के 12 चरण होते हैं, हर एक चरण अपने आप में एक सम्पूर्ण आसन की तरह है, सर्वाइकल में सूर्य नमस्कार बहुत फायदेमंद है. लेकिन अगर आप पहली बार सूर्य नमस्कार कर रहे हैं तो किसी विशेषज्ञ की राय जरूर लें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.