विज्ञापन
Story ProgressBack

क्या होती है पाइल्स या बवासीर, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

What is piles and its causes: बहुत लोग ऐसे हैं जो पाइल्स की दिक्कत से गुजर रहे हैं. लेकिन इसके लक्षणों को न पहचान पाने की वजह से इसके इलाज और बचाव पर ध्यान नहीं देते हैं. जिसकी वजह से ये परेशानी कई बार काफी बढ़ जाती है.  

Read Time: 3 mins
क्या होती है पाइल्स या बवासीर, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके
क्या हैं पाइल्स के लक्षण और कारण

Tips for piles problem: कई बीमारियां देखने में मामूली नजर आती हैं लेकिन जो लोग इन बीमारियों से गुजरते हैं, दर्द भी वही महसूस कर सकते हैं. ऐसी ही एक बीमारी है पाइल्स जिसे बवासीर के (Symptoms of piles)  नाम से जाना जाता है. हालांकि बहुत लोग इस दिक्कत से जूझ रहे होते हैं लेकिन इसके लक्षणों की जानकारी न होने की वजह से ये समझ नहीं पाते हैं कि आखिर ये परेशानी क्यों हो रही है. तो आइये आज हम आपको पाइल्स होने की वजह और इसके लक्षणों के साथ ही ये भी बताते हैं कि आपको इस दौरान क्या सावधानियां बरतनी चाहिए.

क्या है पाइल्स और क्या है इसके लक्षण (What is Piles and what are its symptoms)

क्या है पाइल्स

पाइल्स से जूझ रहे व्यक्ति के एनस के अंदर और बाहर के हिस्से में सूजन हो जाती है. जिसके चलते एनस के अंदरूनी और बाहरी हिस्से में स्किन सिमट जाती है और मस्से का रूप ले लेती है. इन मस्सों में दर्द भी होता है और कई बार इनसे खून भी रिसने लगता है. शौच के दौरान मल त्याग करते समय ये मस्से बाहर की ओर भी आ जाते हैं. इतना ही नहीं पाइल्स की दिक्कत होने पर बैठने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है.

पाइल्स होने की वजह (Causes for piles)

पाइल्स होने की खास वजह कब्ज को माना जाता है. दरअसल कब्ज के दौरान मल त्याग करने में काफी जोर लगाना पड़ता है जिसकी वजह से पाइल्स होती है.
इसके साथ ही प्रेग्नेंसी के समय में भी बहुत लोगों को पाइल्स की दिक्कत हो सकती है. तो वहीं जो लोग लम्बे समय तक खड़े होकर काम करते हैं उनको भी पाइल्स की परेशानी हो सकती है. अगर आपके घर के किसी भी सदस्य को पहले ये दिक्कत रही है, तो भी आपको पाइल्स की प्रॉब्लम हो सकती है.

पाइल्स के लक्षण (Piles symptoms)

एनस के आसपास के हिस्से में सूजन और गांठ होना, मल त्यागते समय ब्लड या म्यूकस आना, एनस के अंदरूनी और बाहरी हिस्से में खुजली होना और अच्छी तरह से पेट साफ न होने का अहसास बने रहना पाइल्स के लक्षण हो सकते हैं.

पाइल्स में इन बातों का रखें ध्यान

अगर आप पाइल्स की दिक्कत से जूझ रहे हैं तो अपनी डाइट में हेल्दी और लिक्विड चीजों को शामिल करें. साथ ही तला और मसालेदार भोजन करने से बचें.  योगा, वॉक और एक्सरसाइज को अपनी दिनचर्या में शामिल करें और एक जगह पर ज्यादा देर तक बैठने या फिर खड़े रहने से बचें.

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
इस वजह से बढ़ रहे हैं युवाओं में बवासीर, फिस्टुला और फिशर के मामले बढ़े : डॉक्टर
क्या होती है पाइल्स या बवासीर, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके
Natural Henna Hair Dye: चुकंदर, कॉफी, केसर से यूं बनाएं मेहंदी, नहीं बचेगा एक भी सफेद बाल, भूल जाओगे हर संडे मेहंदी लगाने का झंझट
Next Article
Natural Henna Hair Dye: चुकंदर, कॉफी, केसर से यूं बनाएं मेहंदी, नहीं बचेगा एक भी सफेद बाल, भूल जाओगे हर संडे मेहंदी लगाने का झंझट
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;