Weight Loss Tips: एक्सरसाइज और वर्कआउट को डेली रूटीन में कैसे करें शामिल, यहां जानें कुछ मोटिवेशन टिप्स

वर्कआउट करने के लिए टाइम निकालना और इसको अपने रूटीन में लाना डिफिकल्ट हो सकता है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे आसान टिप्स जो आपको वर्कआउट करने और फिट रहने के लिए मोटिवेट करेंगे.  

Weight Loss Tips: एक्सरसाइज और वर्कआउट को डेली रूटीन में कैसे करें शामिल, यहां जानें कुछ मोटिवेशन टिप्स

वर्कआउट को डेली रूटीन में शामिल करने के लिए आजमाएं ये टिप्स

Weight Loss Tips: फिट रहना है तो वर्कआउट करना जरूरी है ये बात तो हम सभी जानते हैं. रेगुलर वर्कआउट करने से हमारी बॉडी की स्ट्रेंथ बढ़ती है, इसके साथ ही यह मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के साथ ही इम्युनिटी को भी इम्प्रूव करता है. रेगुलर वर्कआउट करने से वजन तो नियंत्रित रहता ही है इसके साथ ही यह हमारी मसल्स, मेंटल हेल्थ और अच्छी नींद में भी मददगार साबित होता है. हालांकि इसको अपने डेली रूटीन में शामिल करना थोड़ा मुश्किल जरूर होता है. अक्सर समय की और आलस की वजह से भी हम वर्कआउट करना एवाइड कर देते हैं. अक्सर ऐसा देखने में आता है कि कुछ लोग वर्कआउट करना तो शुरू कर देते हैं लेकिन महज 2 से 3 दिन में वो आलस कर जाते हैं  जिससे एक बार उनका वर्कआउट रूटीन ब्रेक होता है तो फिर बस होता ही जाता है.वर्कआउट करने के लिए टाइम निकालना और इसको अपने रूटीन में लाना डिफिकल्ट हो सकता है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे आसान टिप्स जो आपको वर्कआउट करने और फिट रहने के लिए मोटिवेट करेंगे.  

खांसी से छुटकारा पाने के लिए मुलेठी पर करें भरोसा, इन 3 तरीकों से करें इस्तेमाल, तुरंत मिलेगा आराम

घर में आसानी से मिलने वाले ये 5 फूड्स एसिड रिफ्लक्स से दिलाते हैं तुरंत छुटकारा

सर्दियों में रात को सोने से पहले अंजीर वाला दूध पीने से मिलते हैं ये गजब फायदे, जानें बनाने का तरीका

वर्कआउट को आप कैसे अपने रूटीन में शामिल कर सकते हैं चलिए बताते हैं आपको कुछ टिप्स और ट्रिक्स:

1. रियलिस्टिक बनें :

कई बार एक्सरसाइज ना कर पाने पर हम खुद को दूसरे ऐसे कामों में लगा देते हैं जिससे हमारा वर्कआउट ना कर पाना बैलेंस हो जाए. लेकिन ऐसा करने की वजह से हम पूरे दिन दर्द और थकान महसूस करते हैं. कई घंटो तक लगातार एक्सरसाइज करने की बजाए आप इस आदत को धीरे-धीरे अपने रूटीन में शामिल करें. उदाहरण के तौर पर आप शुरूआत में हफ्ते में 3 - 4 बार एक्सरसाइज करने के लिए 30 मिनट का समय निकालें. धीरे-धीरे आप इस टाइम को बढ़ा कर 1 घंटा या उससे ज्यादा कर सकते हैं. 

2. खुद के लिए कठोर मत बनो :

एक रिसर्च के मुताबिक आपका सेल्फ कॉम्पेशन आपके सक्सेस को बढ़ा देता है. यदि आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो खुद को क्रिटीसाइज ना करें क्योंकि ऐसा करने से आपकी विल पावर कम हो जाएगी. अपनी पुरानी गलतियों पर ध्यान दें और उनकों आप किस तरह से ठीक कर सकते हैं इस पर ध्यान दें. वर्कआउट ना कर पाने के पीछे गलतियां निकालना छोड़कर खुद को कैसे मोटिवेट करना है इस बात पर ध्यान दें. 

3. कोई पार्टनर चुनें :

ज्यादातर लोगों को अकेले एक्सरसाइज करना बोरिंग लगता है. ऐसे में ये एक बेहतरीन तरीका है जो आप को फिट रहने के लिए मोटिवेट करेगा.अक्सर लोग वर्कआउट करने में इसलिए भी आलस करते हैं क्योंकि उन्हें अकेले एक्सरसाइज करना बोरियत भरा लगता है. ऐसे में एक अच्छा तरीका ये है कि आप अपने साथ एक्सरसाइज करने के लिए एक वर्कआउट पार्टनर बना लें. आप चाहें तो अपने बच्चों या फिर पति या फिर पैरंट्स को अपना वर्कआउट पार्टनर बना सकती हैं. पार्टनर के साथ एक्सरसाइज करते वक्त आप ये नोटिस करेंगे कि वर्कआउट पहले से ज्यादा इंटरेस्टिंग हो गया है और ये आपको बेहतर से बेहतर करने के लिए मोटिवेट कर रहा है. 

4. किसी प्रोफेशनल से बात करें :

वर्कआउट करने के पीछे हर किसी का अलग मकसद होता है. जैसे कोई वजन कम करने के लिए वर्कआउट करता है तो कोई बैली फैट कम करने के लिए वहीं कई लोग फिट होते हैं लेकिन बॉडी को परफेक्ट शेप देने के लिए वर्कआउट करते हैं. कई बार आपको पता नहीं होता है कि आपके लिए कौन सा वर्कआउट ज्यादा फायदेमंद है. इसलिए अपनी जरूरत के हिसाब से आप वर्कआउट किस तरह और कौन सा करना है इसके लिए किसी प्रोफेशनल ट्रेनर से सलाह जरूर लें. 

5. हर दिन करें डिफरेंट एक्सरसाइज :

वर्कआउट करना आसान बात नहीं है क्योंकि इसमें डिमोटिवेट लोग बहुत जल्दी हो जाते हैं. कई बार तो एक ही तरह का वर्कआउट रूटीन फॉलो करते हुए भी लोगों को बोर महसूस होने लगता है और वो डिमोटिवेट होने लगते हैं. ऐसे में अपने वर्कआउट के दौरान उसे इंटरेस्टिंग बनाने के लिए आप हर दिन अलग और नई तरह की एक्सरसाइज कर सकते हैं. उदाहरण के लिए कभी आप घर की सीढ़ियों पर चढ़ने उतरने की एक्सरसाइज करें तो अगले दिन योग को अपने वर्कआउट रूटीन में शामिल करें. अगर आप डांस करना पसंद करते हैं तो आप एरोबिक्स या जुंबा भी कर सकते हैं.  ये आपको फिट रहने के लिए मोटिवेट करेगा. 

6. शेड्यूल में वर्कआउट को शामिल करें :

जिस तरह आपका सुबह उठने से लेकर ऑफिस जाने तक का टाइम पहले से सेट होता है ठीक उसी तरह आपको अपने वर्कआउट का टाइम भी फिक्स करना होगा. भले ही आप जिम नहीं जा रहे हैं और घर पर वर्कआउट कर रहे हैं लेकिन फिर भी समय निर्धारित करना बेहद जरूरी है. जब आप वर्कआउट का एक टाइम फिक्स कर लेंगे तो आपके मन में लगने लगेगा कि अब आपको एक्सरसाइज करनी है और ये आपके रुटीन का हिस्सा हो जाएगा और आप इसे ब्रेक नहीं करेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें.एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Featured Video Of The Day

मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलार ने की धर्म परिवर्तन विरोधी कानून बनाने की मांग