मानसिक दर्द देता है चाइल्ड एब्यूज, पीड़ित बच्चों के बर्ताव में नजर आते हैं ये बदलाव, यहां जानें कुछ लक्षण, जो बिना बोले बता देंगे उसका हाल

Child Abuse: सुनने में ये सिर्फ बच्चों से बुरा बर्ताव लग सकता है. लेकिन ये एक गंभीर अपराध है. जिसका बच्चों पर भी बेहद बुरा प्रभाव पड़ता है.

मानसिक दर्द देता है चाइल्ड एब्यूज, पीड़ित बच्चों के बर्ताव में नजर आते हैं ये बदलाव, यहां जानें कुछ लक्षण, जो बिना बोले बता देंगे उसका हाल

Signs of Child Abuse | Spotting the signs of child abuse : क्या होता है चाइल्ड एब्यूज और लक्षण

Child Abuse: चाइल्ड एब्यूज यानी कि किसी शख्स का बच्चों के साथ किया गया ऐसा बर्ताव जो उन्हें शारीरिक रूप से प्रताड़ित करता हो. जिसका बच्चों पर बुरा असर पड़ता है. चाइल्ड एब्यूज के शिकार बच्चे अक्सर डर के मारे अपने साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ आवाज भी नहीं उठा पाते. कभी टीचर, कभी पेरेंट्स और कभी प्रताड़ित करने वाले शख्स के डर से ही वो इस बारे में बताते नहीं हैं. लेकिन इस कृत्य के शिकार बच्चों के बर्ताव में बदलाव नजर आने लगते हैं. आपको बताते हैं बच्चों में आ रहे किन बदलावों से आप समझ सकते हैं कि कहीं बच्चा चाइल्ड एब्यूज का शिकार तो नहीं.

इसे भी पढ़ें: बेटी ही नहीं बेटे को भी बुरी संगत से बचाना है जरूरी, बच्चों को कैसे सिखाएं सही और सच्चे दोस्त चुनना, ऐसे करें बच्चों को दोस्त बनाने में मदद 

क्या होता है चाइल्ड एब्यूज और लक्षण | What Is Child Abuse And Signs 

चाइल्ड एब्यूज क्या होता है?

बच्चों को चाइल्ड एब्यूज से जुड़े वीडियो दिखाना, उन्हें कपड़े उतारने को मजबूर करना, बच्चों के सामने कोई भी ऐसी एक्टिविटी करना जो शारीरिक संबंध बनाने से संबंधित हो या इस तरह के वीडियो दिखाना.

  • बच्चों को वेबकैम के आगे गलत काम करने के लिए उकसाना.
  • चाइल्ड एब्यूज देखकर या जानते हुए भी खामोश रहना.
  • बच्चों को गलत जगह या गलत तरह से छूना
  • बच्चों के साथ शारीरिक संबंध बनाना चाइल्ड एब्यूज में आता है.

इसे भी पढ़ें: हफ्ते के सात दिनों में खाएं ये 7 चीजें और आंखों की रोशनी बढ़ाएं! उतरेगा मोटे से मोटा चश्मा, साफ-साफ दिखेगी मीलों दूर की चीज

बच्चों के बर्ताव में अंतर (Differences In Children's Behavior Or Effects of Child Abuse)

बच्चे अगर इस खतरनाक अपराध का शिकार हो रहे हैं. तो उनके बर्ताव में आ रहे इस अंतर से अंदाजा लगाया जा सकता है.

  • बच्चा पहले से ज्यादा एग्रेसिव होगा, चिड़चिड़ा भी हो सकता है. उसे नींद आने में मुश्किल होगी. हो सकता है बच्चा किसी बुरे सपने का जिक्र भी करे. ऐसे बच्चे बिस्तर भी गीला करने लगते हैं.
  • ऐसे बच्चे किसी खास शख्स को अवॉइड करते हैं या किसी शख्स से डरते हैं. वो शख्स उन्हें एब्यूज करने वाला भी हो सकता है.
  • ऐसे बच्चों को हेल्थ प्रॉब्लम्स भी हो सकती हैं. उनके प्राइवेट पार्ट्स में सूजन या इंफेक्शन भी हो सकता है. लड़कियों के केस में प्रेग्नेंट होने की भी संभावना है.
  • अगर एब्यूज करने वाला स्कूल में है तो बच्चे स्कूल जाने में डरने लगते हैं.
  • ड्रॉइंग के जरिए या किसी और तरह से बच्चे अपने साथ घट रही घटना के प्रति हिंट देते हैं.

कैसे करें रिपोर्ट?

अगर आपको लगता है कि कोई बच्चा चाइल्ड एब्यूज का शिकार है तो बिना देर किए पुलिस से संपर्क कर सकते हैं. इसके अलावा चिल्ड्रन सोशल सर्विस करने वाले संस्थानों को भी इसकी इत्तला दे सकते हैं.

World Cancer Day | Breast Cancer: Symptoms & Signs | स्तन कैंसर के कारण, लक्षण, इलाज, बचाव



Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)