Festival And Skin: क्या फेस्टिव फूड्स बढ़ा सकते हैं मुंहासे? जानें एक्ने से बचने के लिए क्या करना चाहिए

Skin Care: अगर आप इस त्योहारी मौसम में अपने मुंहासों और त्वचा की समस्याओं को दूर रखना चाहते हैं, तो आपको निवारक कदम उठाने चाहिए जो उनसे पूरी तरह से बचने में मदद कर सकें.

Festival And Skin: क्या फेस्टिव फूड्स बढ़ा सकते हैं मुंहासे? जानें एक्ने से बचने के लिए क्या करना चाहिए

Skincare: बेहतर पाचन के लिए सलाद और फलों के कटोरे का सेवन करें.

Acne Free Skin: जैसे-जैसे त्योहारों का मौसम शुरू होता है, वैसे-वैसे मीठे और तले हुए अनहेल्दी फूड्स का अधिक सेवन होता है. इन त्योहारी फूड्स का विरोध करना कठिन हो सकता है. इन फूड्स को कम मात्रा में न खाने पर अक्सर वजन बढ़ जाता है और यहां तक ​​कि मुंहासे भी हो जाते हैं.

फेस्टिवल फूड्स मुंहासे का कारण क्यों बनते हैं?

स्किनकेयर एक्सपर्ट्स का दावा है कि बहुत अधिक सुगर खाने से आप इंसुलिन रेजिस्टेंट डेवलप कर सकते हैं, जिससे त्वचा पर काले धब्बे हो सकते हैं और मुंहासों का प्रकोप बढ़ सकता है. वास्तव में, आपकी डाइट में अतिरिक्त चीनी से हिर्सुटिज़्म हो सकता है, एक ऐसी स्थिति जो शरीर में अतिरिक्त बालों की ग्रोथ का कारण बनती है.

आपके किचन में रखी ये 7 चीजें नेचुरल पेन किलर का करती हैं काम, दांत हो या पेट दर्द हर मर्ज का करती हैं इलाज

इसके अलावा, हाई ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है जिससे शरीर अधिक इंसुलिन का उत्पादन करता है. शरीर एण्ड्रोजन हार्मोन उत्पन्न करके इन वृद्धि का जवाब देता है, जो मुंहासे को बढ़ाता है. यह भी साबित हो चुका है कि चीनी सूजन का कारण बनती है और कोलेजन को बांधती है, जिससे त्वचा की कोशिकाएं और भी खराब हो जाती हैं. आप जितनी कम चीनी और अन्य उच्च ग्लाइसेमिक भोजन का सेवन करेंगे, आपकी त्वचा स्वस्थ दिखेगी और महसूस करेगी.

शुगर के साथ आपकी डाइट में एक्स्ट्रा अनहेल्दी फैट और तेल त्वचा में सीबम उत्पादन को बढ़ा सकते हैं. सीबम त्वचा द्वारा निर्मित प्राकृतिक तेल है, जिसकी अधिकता से मुंहासे हो सकते हैं. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अतिरिक्त सीबम आपकी त्वचा से चिपके रहने के लिए अधिक धूल और कीटाणुओं को आकर्षित करता है.

मुंहासों पर कैसे काबू पाएं?

अगर आप इस त्योहारी मौसम में अपने मुंहासों और त्वचा की समस्याओं को दूर रखना चाहते हैं, तो आपको निवारक कदम उठाने चाहिए जो उनसे पूरी तरह से बचने में मदद कर सकें. यहां कुछ आसान तरीके दिए गए हैं जिनसे आप त्योहारों के मौसम में मुंहासों के टूटने को रोक सकते हैं या कम कर सकते हैं.

पीठ दर्द से उठ या बैठ नहीं पा रहे हैं तो इन घरेलू उपचारों को आजमाएं और पाएं तुरंत आराम

1. पोर्शन कंट्रोल

भाग नियंत्रण का तात्पर्य आपके भोजन के सेवन को पर्याप्त मात्रा में सीमित करना है. यह अधिक खाने से बचने में मदद करता है जिससे एक्स्ट्रा शुगर और तले हुए फूड्स का सेवन हो सकता है. इसके अलावा, भाग नियंत्रण पाचन संबंधी समस्याओं या वजन बढ़ने को रोकने में मदद करता है जो अधिक खाने के कारण हो सकता है. ये समस्याएं त्वचा के स्वास्थ्य को और खराब कर सकते हैं.

2. प्रोबायोटिक्स खाएं

प्रोबायोटिक्स हेल्दी बैक्टीरिया से भरपूर फूड्स हैं. ये फूड्स हमारे पेट के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन हैं और हमारे पाचन तंत्र को सही रखने में मदद करते हैं. खराब पाचन तंत्र के कारण भी मुंहासे और अन्य त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं. पेट के अनुकूल फूड्स के सेवन से इनसे बचा जा सकता है.

3. हेल्दी ऑप्शन के लिए जाएं

अगर आप बैलेंस डाइट फॉलो करते हैं, तो आपको अपने पसंदीदा भोजन और मिठाइयों को छोड़ने की जरूरत नहीं है. हालांकि, याद रखें कि भोजन मुख्य रूप से आपके शरीर को पोषण देने के लिए है, न कि केवल स्वाद लेने और जश्न मनाने के लिए. थोड़ा सा रिप्लेसमेंट वह सब है जिसकी जरूरत है. उदाहरण के लिए शुगर के रिप्लेसमेंट पर शहद या गुड़ का प्रयोग करें. अपनी रेसिपी में, अस्वास्थ्यकर मैदे को साबुत गेहूं या रागी जैसे हेल्दी आटे से बदलें.

मौसम में बदलाव के कारण बच्चों को होने वाली मौसमी बीमारियों से बचाने के लिए 5 सेफ्टी टिप्स

4. हाइड्रेट

सिस्टम में पानी की कमी के कारण मुंहासे और कई अन्य त्वचा संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं. अगर आप लगातार मीठा और तले हुए खाद्य पदार्थों का सेवन कर रहे हैं तो हाइड्रेशन विशेष रूप से आवश्यक है क्योंकि वे शरीर को डिहाइड्रेट कर सकते हैं.

5. प्रत्येक भोजन के साथ सलाद खाएं

छुट्टियों में घर पर खाना बनाना महंगा पड़ता है. आपकी कैलोरी की मात्रा संतुलित हो सकती है, आप अधिक खाना कम कर सकते हैं, और आप हेल्दी, ताजी सब्जी का सलाद खाकर तेजी से भरा हुआ महसूस कर सकते हैं. ताजा उपज से बना सलाद का एक कटोरा फाइबर और हेल्दी न्यूट्रिशन प्राप्त करने का एक शानदार तरीका है. आप खीरा, प्याज, टमाटर आदि का सेवन कर सकते हैं.

सर्वाइकल कैंसर के लिए भारत ने इजाद की वैक्सीन, किसे और कब दी जा सकती है, जानिए कीमत

अपनी त्वचा को हेल्दी रखने के लिए इस त्योहारी सीजन में इन बातों का रखें ध्यान.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

कब्ज दूर कर किडनी को दुरुस्त करता है नींबू, जानें इसके फायदे:

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com