Health Tips: क्या आप भी सुबह उठने के बाद रोज करते हैं ये 5 गलतियां? आज से ही सुधारे नहीं तो मुश्किल में पड़ जाएंगे आप

Brushing Mistakes: दांतों की समस्याएं न केवल मुंह में समस्याएं पैदा करती हैं, जिसमें कैविटी और मसूड़ों के रोग शामिल हैं, बल्कि शरीर के अन्य हिस्सों पर भी होते हैं जिनमें हृदय रोग, डायबिटीज और यहां तक कि स्ट्रोक भी शामिल हैं.

Health Tips: क्या आप भी सुबह उठने के बाद रोज करते हैं ये 5 गलतियां? आज से ही सुधारे नहीं तो मुश्किल में पड़ जाएंगे आप

टूथब्रश भी एक्सपायरी डेट के साथ आते हैं लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि

Common Tooth Brushing Mistakes: डेंटल हाइजीन को आपके रूटीन के सबसे महत्वपूर्ण भागों में से एक माना जाता है. अपने दांतों और मसूड़ों पर ध्यान न देने से दांतों के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं. दांतों की समस्याएं न केवल मुंह में समस्याएं पैदा करती हैं, जिसमें कैविटी और मसूड़ों के रोग शामिल हैं, बल्कि शरीर के अन्य हिस्सों पर भी होते हैं जिनमें हृदय रोग, डायबिटीज और यहां तक कि स्ट्रोक भी शामिल हैं. यही कारण है कि डॉक्टर आपके दांतों के स्वास्थ्य का अत्यधिक ध्यान रखने की सलाह देते हैं.

5 डेंटल मिस्टेक्स और उन्हें कैसे ठीक करें | 5 Dental Mistakes and How To Fix Them

1) काफी देर तक ब्रश न करना

ब्रश करना हमारे रूटीन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है और अगर हम इसे पर्याप्त समय नहीं दे रहे हैं, तो यह लंबे समय में कैविटी जैसी दांतों की समस्या देगा. दंत चिकित्सक सलाह देते हैं कि हर बार दो मिनट के लिए दिन में दो बार अपने दांतों को ब्रश करना आदर्श समय है. 2 मिनट के लिए ब्रश करना आपके मुंह की सफाई सुनिश्चित करता है.

40 साल की उम्र में भी महिलाएं 25 जैसे फिट, हेल्दी और शेप में रहने के लिए एक्सपर्ट के बताए इन टिप्स को करें फॉलो

2) अपने टूथब्रश को न बदलना

टूथब्रश भी एक्सपायरी डेट के साथ आते हैं लेकिन यह बात बहुत कम लोग जानते हैं. पुराना टूथब्रश बहुत सारे बैक्टीरिया को पकड़ सकता है और दांतों और मुंह को नुकसान पहुंचा सकता है, जितना अधिक आप पुराने टूथब्रश का उपयोग करते हैं, समय के साथ यह उतना ही कम प्रभावी होता जाता है. दंत चिकित्सक सलाह देते हैं कि टूथब्रश को हर 3-4 महीने के बाद बदल दिया जाना चाहिए.

3) बहुत जोर से ब्रश करना

ब्रश करना एक ऐसी कला है जिसे अगर ठीक से न किया जाए तो दांतों से जुड़ी समस्याएं जैसे मसूड़ों में खून आना आदि हो सकता है. सही मात्रा में दबाव डालना ब्रशिंग की कुंजी है. बेस्ट ब्रशिंग में आपके दांतों से सभी फूड कणों और पट्टिका को हटाना शामिल है. दंत चिकित्सकों के अनुसार, टूथब्रश को सिर्फ तीन अंगुलियों से पकड़ना ब्रश करने का सबसे अच्छा तरीका है और अगर सेंसिटिविटी है तो सॉफ्ट ब्रिसल्स वाले टूथब्रश का इस्तेमाल करें.

4) केवल दांतों को ब्रश करना और मसूड़ों और जीभ को नहीं ब्रश करना

ब्रश करना ऐसी प्रक्रिया है जिसमें न केवल आपके दांतों की बल्कि जीभ और मसूड़ों की भी सफाई की जरूरत होती है, क्योंकि बैक्टीरिया और कीटाणु मुंह में हर जगह बिखरे रहते हैं. जीभ और मसूड़ों की सफाई को नजरअंदाज करने से कीटाणु मुंह में रह सकते हैं और सड़ने की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं. ब्रश करते समय अपनी जीभ को टंग क्लीनर या केवल टूथब्रश से और मसूड़ों के लिए साफ करें. अपने टूथब्रश से छोटे और कोमल हलकों से उनकी मालिश करें.

Health Tips: साथी के साथ निजी पलों को खूबसूरत और बेहतर बनाने के लिए लाइफस्‍टाइल में करें ये बदलाव...

5) गलत समय पर ब्रश करना

एक धारणा है कि खाने या पीने के ठीक बाद ब्रश करने से मुंह से सभी बैक्टीरिया निकल सकते हैं लेकिन यह पूरी तरह से गलत धारणा है. कुछ अम्लीय खाने या पीने के तुरंत बाद ब्रश करना आपके दांतों के इनेमल को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि ब्रश करने से एसिड आपके दांतों के इनेमल में और बढ़ सकता है. डॉक्टर द्वारा सलाह दी जाती है कि अपने ब्रश से पहले कम से कम 30 मिनट तक इंतजार करें या पानी से अपना मुंह धो लें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.