5 एंटी इंफ्लेमेटरी जड़ी बूटियां जो गले, फेफड़ों, Muscles, जोड़ों और Injuries की सूजन से दिलाती हैं छुटकारा

Anti-Inflammatory Herbs: डीप-फ्राइड, प्रोसेस्ड और मीठा खाने से सूजन हो सकती है. अपनी डाइट में कुछ फूड्स को शामिल करने से इसे रोकने में मदद मिल सकती है. यहां एंटी इंफ्लेमेटरी जड़ी-बूटियां हैं जिन्हें आपको अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए.

5 एंटी इंफ्लेमेटरी जड़ी बूटियां जो गले, फेफड़ों, Muscles, जोड़ों और Injuries की सूजन से दिलाती हैं छुटकारा

Inflammation से लड़ने के लिए आप अदरक औरर हल्दी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

खास बातें

  • करक्यूमिन सबसे अच्छा प्राकृतिक एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट घटक है.
  • काली मिर्च आपके गले, फेफड़े, आंत, मांसपेशियों, जोड़ों के लिए फायदेमंद है.
  • सोंठ सूजन, जोड़ों का दर्द, पीरियड्स क्रैम्प्स सभी में मददगार है.

Herbs For Reducing Inflammation: सूजन हमारे शरीर का संक्रमण और चोटों से लड़ने का तरीका है लेकिन कभी-कभी यह पुरानी हो जाती है और हमें गठिया और सोरायसिस जैसी ऑटोइम्यून बीमारियों के खतरे में डाल देती है. गलत भोजन करना और एक गतिहीन लाइफस्टाइल जीना पुरानी सूजन के कुछ अन्य कारण हैं. बहुत अधिक शराब, धूम्रपान या तनाव से सूजन तेज हो सकती है. पेट दर्द, थकान, सीने में दर्द, जोड़ों का दर्द, बुखार सूजन के कुछ लक्षण हैं. सूजन भी ऑटो-इम्यून डिसऑर्डर के प्रमुख कारणों में से एक है. डीप-फ्राइड, प्रोसेस्ड और मीठा खाने से सूजन हो सकती है. अपनी डाइट में कुछ फूड्स को शामिल करने से इसे रोकने में मदद मिल सकती है. यहां एंटी इंफ्लेमेटरी जड़ी-बूटियां हैं जिन्हें आपको अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए.

किचन में मौजूद सूजन से लड़ने वाले फूड्स | Foods That Fight Inflammation In The Kitchen

1) हल्दी

हम अब तक जानते हैं कि हल्दी में करक्यूमिन होता है जो सबसे अच्छा प्राकृतिक एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट घटक होता है. हम इसका उपयोग बाहरी घावों और आंतरिक संक्रमणों के लिए सदियों से करते आ रहे हैं.

Morning Routine में खाली पेट पिएं Cinnamon Water, मोटापा होगा कम, मिलेगी चमकदार स्किन और अच्छी इम्यूनिटी

2) काली मिर्च

ये आपके गले, फेफड़े, आंत, मांसपेशियों, जोड़ों और हर जगह सूजन के लिए सबसे अच्छा है. इसका इस्तेमाल हम खांसी-जुकाम, जोड़ों के दर्द, एनोरेक्सिया आदि में करते रहे हैं.

d89v2uuo

बहुत अधिक शराब, धूम्रपान या तनाव से सूजन तेज हो सकती है. Photo Credit: iStock

3) अदरक

सोंठ सूजन, जोड़ों का दर्द, पीरियड्स क्रैम्प्स सभी में आपको बस एक अदरक की चाय की जरूरत है और आपकी परेशानी दूर हो जाएगी.

4) लौंग

यह तासीर में गर्म होने के बावजूद पेट को ठंडक देने वाली और आंतों को आराम देने वाली होती है. दांत दर्द हो, गले में दर्द हो, जोड़ों का दर्द हो- लौंग हमेशा आपके बचाव में आती है.

Kitchen Tips: लहसुन छिलने से लेकर चींटियों को भगाने तक, यहां जानें 5 कमाल के किचन ट्रिक्स

5) मेथी

मेथी का उपयोग भारतीय लोग सदियों से जोड़ों के दर्द, कब्ज, सूजन, वजन घटाने आदि के लिए करते आ रहे हैं. आप मेथी के पानी का उपयोग भाप लेने के लिए भी कर सकते हैं क्योंकि यह आपके श्वसन मार्ग में सूजन को कम करता है जिससे आपकी सांस को बेहतर बनाने में मदद मिलती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.