विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From May 14, 2023

ओडिशा : पाकिस्तानी गुर्गों के साथ सिम कार्ड ओटीपी साझा करने के आरोपी तीन गिरफ्तार

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों ने भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देने के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाने के लिए वन टाइम पासवर्ड का इस्तेमाल किया था.

Read Time: 12 mins
ओडिशा : पाकिस्तानी गुर्गों के साथ सिम कार्ड ओटीपी साझा करने के आरोपी तीन गिरफ्तार
प्रतीकात्मक फोटो.
भुवनेश्वर:

ओडिशा पुलिस के विशेष कार्य बल (STF) ने फर्जी नामों से सिम कार्ड खरीदने और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों के साथ अपने 'ओटीपी' साझा करने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. एसटीएफ के महानिरीक्षक (IG) जेएन पंकज ने रविवार को बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों ने भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देने के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाने के लिए वन टाइम पासवर्ड (OTP) का इस्तेमाल किया था.

आरोपी पाकिस्तान के साथ-साथ भारत में सक्रिय कुछ पाकिस्तानी खुफिया एजेंट (पीआईओ) तथा आईएसआई एजेंटों सहित विभिन्न ग्राहकों को ओटीपी (सिम का उपयोग करके लिंक/ जनरेट) बेच रहे थे.

Advertisement

आईजी पंकज ने संवाददाताओं से कहा कि ओटीपी साझा करने के बदले में आरोपियों को भारत में स्थित पाकिस्तानी एजेंटों से रुपयों का भुगतान किया जाता था. यह आरोपी कथित तौर पर एक महिला पीआईओ एजेंट के संपर्क में थे, जिसे पिछले साल राजस्थान में गिरफ्तार किया गया था.

ओटीपी का इस्तेमाल व्हाट्सऐप, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया मंच पर विभिन्न अकाउंट बनाने और ई-मेल अकाउंट खोलने के लिए भी किया जाता था.

एसटीएफ के महानिरीक्षक ने बताया कि इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल भारत विरोधी गतिविधियों जैसे जासूसी, आतंकवादियों के साथ संपर्क, कट्टरपंथ, भारत विरोधी प्रचार, सोशल मीडिया पर भारत विरोधी भावनाओं को हवा देने, 'हनी-ट्रैपिंग' और अन्य असामाजिक गतिविधियों में किया जाता था.

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान नयागढ़ जिले के बड़ापांडुसर के पठानिसमंत लेंका (35), नयागढ़ जिले के दासपल्ला इलाके के आईटीआई शिक्षक सरोज कुमार नायक (26) और जाजपुर जिले के सुजानपुर इलाके की सौम्या पटनायक (19) के रूप में की गई है.

Advertisement

एसटीएफ के जवानों ने गुप्त सूचना के आधार पर शुक्रवार को छापेमारी के दौरान आरोपियों को पकड़ लिया. आईजी पंकज ने कहा कि आरोपियों के पास से 19 मोबाइल फोन, पहले से सक्रिय सिम कार्ड, एटीएम कार्ड और एक लैपटॉप जब्त किया गया है.

भुवनेश्वर की उप मंडल न्यायिक मजिस्ट्रेट (एसडीजेएम) अदालत ने शनिवार को आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

Advertisement
(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
ये कैसा इश्क है! 17 साल की बेटी ने सोते पिता का गला काटा, भाई का सिर हथौड़े से कुचला
ओडिशा : पाकिस्तानी गुर्गों के साथ सिम कार्ड ओटीपी साझा करने के आरोपी तीन गिरफ्तार
Ghaziabad : स्कूल जा रही छात्रा को उसके भाई ने मारी गोली, मामला दर्ज
Next Article
Ghaziabad : स्कूल जा रही छात्रा को उसके भाई ने मारी गोली, मामला दर्ज
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;