गाजियाबाद मर्डर केस : अस्पताल में शुरू हुई प्रेम कहानी और अस्पताल में ही हो गया अंत

पुलिस को व्हाट्स ऐप चैट और रिकॉर्डिंग मिली है. इसने यह साबित किया है कि विनय और कविता ने मिलकर महेंद्र की हत्या का प्लान बनाया और उसकी हत्या कर दी.

गाजियाबाद मर्डर केस : अस्पताल में शुरू हुई प्रेम कहानी और अस्पताल में ही हो गया अंत

गाजियाबाद में पुलिस ने महेंद्र राणा नामक युवक की हत्या का खुलासा कर दिया है.

गाजियाबाद में पुलिस ने महेंद्र राणा नामक युवक की हत्या का खुलासा कर दिया है. इस हत्या में पुलिस ने महेंद्र की पत्नी कविता और उसके प्रेमी विनय शर्मा को गिरफ्तार किया है.

कविता गाजियाबाद के सर्वोदय अस्पताल में नर्स का काम करती है और उसी अस्पताल में विनय शर्मा इंश्योरेंस का काम करता है. दोनों इसी अस्पताल में मिले और वहीं शादीशुदा कविता को विनय से प्यार हो गया. पुलिस के मुताबिक 29 तारीख की रात को महेंद्र शराब पी के आया था और उसका झगड़ा उसकी पत्नी से हुआ.

आरोप है कि उसके बाद कविता ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. उसके बाद बड़ी चालाकी से महेंद्र को सर्वोदय अस्पताल लेकर गई, जहां उसने सबको इस भरोसे में लेने का प्रयास किया कि महेंद्र ने सुसाइड किया है, लेकिन अस्पताल ने पूर्ण प्रोटोकॉल निभाते हुए इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने जब पोस्टमार्टम कराया तो पता चला की महेंद्र की गला घोटकर हत्या की गई है.

इसके बाद पुलिस की जांच आगे बढ़ी तो महेंद्र की 13 वर्षीय बेटी और 8 वर्षीय बेटे से पूछताछ में पता चला कि रात में महेंद्र जब शराब पी के आया था तो उसकी अपनी पत्नी कविता से झगड़ा हुआ. इसके बाद बच्चों ने देखा की कविता महेंद्र की छाती पर चढ़ी हुई है और उसका गला दबा रही है.

गाजियाबाद एसपी सिटी निपुण अग्रवाल के मुताबिक, पुलिस को व्हाट्स ऐप चैट और रिकॉर्डिंग मिली है. इसने यह साबित किया है कि विनय और कविता ने मिलकर महेंद्र की हत्या का प्लान बनाया और उसकी हत्या कर दी.

यह भी पढ़ें-

मद्रास उच्च न्यायालय ने लगाया तमिलनाडु के मंदिरों में मोबाइल फोन पर प्रतिबंध
नोएडा की लेडी किलर करने वाली थी सीरियल किलिंग, हेमा की हत्या तो बस शुरूआत थी : पुलिस
"मैं जहां भी जाता हूं, भारत को अपने साथ लेकर चलता हूं": गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 

Featured Video Of The Day

"मेरी आवाज ही पहचान है...", स्वर कोकिला लता मंगेशकर को उनकी पुण्यतिथि पर कुछ यूं किया याद