नोएडा की लेडी किलर करने वाली थी सीरियल किलिंग, हेमा की हत्या तो बस शुरूआत थी : पुलिस

सेंट्रल नोएडा के एडिशनल डीसीपी शाद मियां खान ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियों ने कबूल किया है कि उनका अगला निशाना वे लोग थे, जोकि पायल की मां-बाप की खुदकुशी के लिए जिम्मेदार थे.

नोएडा की लेडी किलर करने वाली थी सीरियल किलिंग, हेमा की हत्या तो बस शुरूआत थी : पुलिस

पुलिस की पूछताछ में लेडी किलर और उसके प्रेमी ने हैरान करने वाली बातें बताईं हैं.

क्राइम शो "कबूल है" को देखकर एक तीर से कई शिकार करने की कोशिश में लगी लेडी किलर को उसके प्रेमी के साथ कोतवाली बिसरख पुलिस ने हेमा के कत्ल के इल्जाम में गिरफ्तार किया है. पुलिस की पूछताछ में लेडी किलर और उसके प्रेमी ने हैरान करने वाली बातें बताईं हैं. उनका इरादा अभी और कई कत्ल करने का था.  

पुलिस के अनुसार, ग्रेटर नोएडा के बढ़पुरा गांव की रहने वाली 26 साल की पायल ने खौफनाक साजिश रची थी. पायल ने पहले फेसबुक पर अजय नाम के लड़के से दोस्ती की और उसे प्रेम के जाल में फांसा और फिर अपने माता-पिता की सुसाइड का बदला लेने के लिए प्रेमी अजय ठाकुर के माध्यम से अपने कद-काठी की हेमा को अपने घर बुलाया और अजय के साथ मिलकर उसका कत्ल कर उसे अपने कपड़े पहना दिए. उसके चेहरे को जला दिया और अपनी आत्महत्या का नाटक रचकर कई रिश्तेदारों को फंसाने के लिए एक सुसाइड नोट लिख खुद प्रेमी के साथ गायब हो गई. 

इधर, हेमा के गायब होने से परेशान उसके परिवार वाले हेमा की तस्वीर लेकर पुलिस चौकी और थाने का चक्कर लगा रहे थे, लेकिन उसका पता नहीं चल पा रहा था. जब इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस से हेमा के फोन लोकेशन को ट्रेस किया गया तो पता चला कि आखिरी कॉल अजय ठाकुर नाम के एक शख्स ने की है. पुलिस ने जब अजय ठाकुर को पकड़ा तो यह खौफनाक सच सामने आया. 

हेमा को पायल समझते हुए उसके परिवार वालों ने उसका दाह संस्कार बिना पुलिस को बताए ही कर दिया था. इसके कारण पुलिस के सामने हेमा की मौत हो चुकी है, यह साबित करने की चुनौती खड़ी हो गई है. हालांकि, पुलिस फॉरेंसिक एविडेंस और अन्य सबूतों के सहारे हेमा की आइडेंटिटी साबित करने में सफल रही.

सेंट्रल नोएडा के एडिशनल डीसीपी शाद मियां खान ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियों ने कबूल किया है कि उनका अगला निशाना वे लोग थे, जोकि पायल की मां-बाप की खुदकुशी के लिए जिम्मेदार थे. इसके लिए इन लोगों ने तमंचा और कारतूस का जुगाड़ कर लिया था, लेकिन इससे पहले कि अपने मंसूबों को अंजाम दे पाते, पुलिस ने उन्हें धर दबोचा.

यह भी पढ़ें-

मद्रास उच्च न्यायालय ने लगाया तमिलनाडु के मंदिरों में मोबाइल फोन पर प्रतिबंध
महाराष्ट्र में ज़ीका वायरस का पहला मरीज मिला, हालत स्थिर
"मैं जहां भी जाता हूं, भारत को अपने साथ लेकर चलता हूं": गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 

Featured Video Of The Day

"कर्तव्य पथ पर श्रमिकों को देखकर बहुत अच्छा लगा" 'मन की बात' कार्यक्रम में बोले PM मोदी