सचिन तेंदुलकर ने गेंदबाजी से बनाया है अनोखा रिकॉर्ड, शोएब अख्तर, इमरान खान और डेल स्टेन भी नहीं कर पाए ऐसा

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने वर्ल्ड क्रिकेट में अपनी बल्लेबाजी से कई रिकॉर्ड बनाए हैं जिसका टूटना काफी मुश्किल है, इसके अलावा उन्होंने वनडे में गेंदबाजी से भी कुछ ऐसे रिकॉर्ड बनाए हैं जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

सचिन तेंदुलकर ने गेंदबाजी से बनाया है अनोखा रिकॉर्ड, शोएब अख्तर, इमरान खान और डेल स्टेन भी नहीं कर पाए ऐसा

सचिन तेंदुलकर ने गेंदबाजी से बनाया है अनोखा रिकॉर्ड

खास बातें

  • सचिन तेंदुलकर ने गेंदबाजी से भी बनाया है कई सारे रिकॉर्ड
  • वनडे में सचिन के नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है जिसे अख्तर भी नहीं बना पाए
  • इमरान खान, शोेएब अख्तर और डेल स्टेन को इस मामले में तेंदुलकर ने पछाड़ा

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने वर्ल्ड क्रिकेट में अपनी बल्लेबाजी से कई रिकॉर्ड बनाए हैं जिसका टूटना काफी मुश्किल है. तेंदुलकर वनडे और टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं तो वहीं दूसरी ओर सबसे ज्यादा शतक भी जमाने वाले बल्लेबाज हैं. तेंदुलकर ने वनडे में 49 शतक तो वहीं टेस्ट में 51 शतक जमाने का कमाल किया है. इस तरह से इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 शतक जमाने वाले सचिन दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं. पूरे करियर में सचिन एक बेहतरीन बल्लेबाज के तौर पर जाने गए लेकिन उन्होंने गेंदबाजी से भी कई ऐसे कमाल किए हैं जिसकी चर्चा लगातार होती है. खासकर वनडे में सचिन ने अपनी गेंदबाजी से विरोधी बल्लेबाजों को खूब परेशान किया है. बता दें कि वनडे क्रिकेट में तेंदुलकर के नाम सबसे कम उम्र में विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है. तेंदुलकर ने 5 दिसंबर 1990 को श्रीलंका के खिलाफ वनडे मैच में बल्लेबाज रोशन महानामा को आउट कर यह रिकॉर्ड बनाया था (Sachin Tendulkar Bowling Records). जिस समय सचिन ने यह विकेट लिया था उस समय उनकी उम्र महाज 17 साल और 224 दिन थी. ऐसा करते ही सचिन भारत की ओर से सबसे कम उम्र में विकेट लेने वाले गेंदबाज बने थे.

इसके अलावा तेंदुलकर वनडे में आखिरी ओवर में 6 या उससे कम रन देकर अपनी टीम की जीत दिलाने वाले इकलौते गेंदबाज हैं. सचिन ने यह कारनामा अपने करियर में दो दफा किया है. 1993 में सचिन ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे मैच में आखिरी ओवर में गेंदबाजी की और केवल 3 रन दिए, भारत यह मैच 3 रनों से जीता था. आखिरी ओवर में दक्षिण अफ्रीका को 6 रनों की दरकार थी. इसके अलावा 1997 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे मैच में सचिन ने आखिरी ओवर में गेंदबाजी की और पहले ही गेंद पर ऑस्ट्रेलिया के आखिरी बल्लेबाज को आउट कर भारत को मैच जीता दिया था. 

वनडे में सचिन ने अख्तर, इमरान खान और डेल स्टेन से ज्यादा गेंदें फेंकी
इन रिकॉर्डों के अलावा सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने वनडे क्रिकेट (ODIs Cricket) में पाकिस्तान के दिग्गज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar), इमरान खान (Imran Khan) और दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन (Dale Steyn) से ज्यादा गेंद फेंकने का रिकॉर्ड बनाया है. वनडे करियर में सचिन ने कुल 8054 गेंद फेंकी हैं और कुल 154 विकेट लेने में सफल रहे हैं. बात करें शोएब अख्तर की तो उन्होंने वनडे में  7764 गेंद फेंकी और 394 विकेट लेने में सफल रहे. इसके अलावा इमरान खान ने अपने वनडे करियर में 7461 गेंद फेंकी और 182 विकेट लेने में सफल रहे. वहीं, दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेल ने अपने वनडे करियर में कुल 6256 गेंदें फेंकी है और 196 विकेट लेने में सफल रहे. ऐसे में सचिन ने वनडे क्रिकेट में इन गेंदबाजों से ज्यादा गेंदें फेंकी और एक शानदार गेंदबाज के तौर पर खुद को स्थापित भी किया.


गेंदबाजी में सचिन
तेंदुलकर ने वनडे में 463 मैच खेले और इस दौरान गेंदबाजी से कुल 154 विकेट लेने में सफल रहे, टेस्ट में तेंदुलकर ने 200 मैचों में 46 विकेट चटकाए हैं. इसेक अलावा टी-20 में उनके नाम 1 विकेट दर्ज है. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 71 विकेट सचिन के नाम दर्ज है. (Sachin Tendulkar bowling career)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.