"गैर-मुस्लिम के साथ बाइक पर सवारी?": बेंगलुरु में मोरल पुलिसिंग मामले में दो गिरफ्तार

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बिना देर किए आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की सराहना की

बेंगलुरु में गैर मुस्लिम के साथ बाइक पर सवारी करने पर महिला और उसके सहकर्मी को प्रताड़ित किया गया.

बेंगलुरु:

बेंगलुरू में मोरल पुलिसिंग के एक मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एक वीडियो में आरोपियों को एक बैंक कर्मचारी के साथ मारपीट करते हुए दिखाया गया था. एक मुस्लिम महिला सहयोगी को अपनी मोटरसाइकिल पर पीछे बैठाने पर यह मारपीट की गई थी. शुक्रवार को शहर के डेयरी सर्किल इलाके में हुई इस घटना को लेकर शनिवार को दोनों को गिरफ्तार किया गया. कथित तौर पर खुद हमलावरों ने घटना का वीडियो शूट किया था. वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया गया जिसमें कन्नड़ में लिखा गया "नेशनल डिफेंस फोर्स" वॉटरमार्क था. इस वीडियो को व्यापक रूप से साझा किया गया.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बिना देर किए आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की सराहना की.

हमले के वीडियो में दो व्यक्ति एक पुरुष और उसकी महिला सहयोगी को रोकते हुए दिख रहे हैं. रोकने वाले उनसे एक साथ सफर करने का कारण पूछते हैं. वे कन्नड़ और उर्दू में बोलते हुए सुनाई देते हैं. वे मुस्लिम पोशाक में बाइक पर सवार महिला से पूछते हैं कि वह एक गैर-मुस्लिम के साथ क्यों सफर कर रही थी.

दोनों आरोपी एक निजी बैंक के इन दोनों कर्मचारियों को गाली देते हैं और धमकाते हैं. महिला उनको समझाने की कोशिश भी करती है. हेलमेट पहने हुए बाइक सवार व्यक्ति को मारने से पहले अपशब्दों का उपयोग करते हुए हमलावरों में से एक कन्नड़ में धमकी देता है, "यदि तुमने कभी किसी अन्य बुर्का वाली महिला को साथ में लिया ..."

महिला की ओर मुड़ते हुए हमलावर उर्दू में बोलने लग जाता है. वह पूछता है, "तुम्हारा नाम क्या है? क्या आपको शर्म नहीं आती...? क्या आप नहीं जानतीं कि हम किस तरह के समय में रह रहे हैं? आप कुत्तों और बिल्लियों की तरह क्यों व्यवहार करती हैं?"

फिर आरोपी महिला के पति को फोन करते हैं और पूछते हैं कि वह "अपनी पत्नी को गैर-मुस्लिम के साथ सफर करने की इजाजत क्यों देता है." उनमें से एक उसके पति को यह कहते हुए गाली देता सुना जाता है कि "यह आप जैसे लोग हैं जो समुदाय को बदनाम करते हैं."


इस सब के दौरान, आरोपी उस आदमी पर घूंसे और थप्पड़ मारते रहते हैं, फिर भी वह हेलमेट पहने रहता है. इसके बाद हमलावरों ने महिला को उसके सहयोगी की बाइक से उतरने और ऑटोरिक्शा में घर जाने के लिए मजबूर किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो वायरल होने के बाद एसजी पाल्या पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है. दक्षिण-पूर्व बेंगलुरु के पुलिस उपायुक्त श्रीनाथ महादेव जोशी ने कहा, "हमने तेजी से कार्रवाई करते हुए 12 घंटे के भीतर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया."