दवा खाने से घुटने लगा 3 सप्ताह के बच्चे का दम, तो पुलिस अधिकारी ने ऐसे बचाई उसकी जान

मिस्टर हबर्ड संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) के अर्कांसस में पॉट्सविले पुलिस विभाग (Pottsville Police Department in Arkansas) के एक 23 वर्षीय पुलिस अधिकारी हैं, जिन्होंने तीन सप्ताह के बच्चे को उसकी दवा से दम घुटने से बचाया.

दवा खाने से घुटने लगा 3 सप्ताह के बच्चे का दम, तो पुलिस अधिकारी ने ऐसे बचाई उसकी जान

दवा खाने से घुटने लगा 3 सप्ताह के बच्चे का दम, तो पुलिस अधिकारी ने ऐसे बचाई उसकी जान

दुर्घटनाएं कहीं भी कभी भी हो सकती हैं, लेकिन कोडी हबर्ड (Cody Hubbard) जैसे पुलिस अधिकारियों की त्वरित सोच सभी की प्रशंसा के पात्र हैं, यह जानने के लिए कि क्या करना है यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई नुकसान न होने पाए. आप पूछ सकते हैं कि मिस्टर हबर्ड कौन हैं ? वह संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) के अर्कांसस में पॉट्सविले पुलिस विभाग (Pottsville Police Department in Arkansas) के एक 23 वर्षीय पुलिस अधिकारी हैं, जिन्होंने तीन सप्ताह के बच्चे को उसकी दवा से दम घुटने से बचाया. गुरुवार को, पॉट्सविले पुलिस विभाग ने अपने आधिकारिक फेसबुक हैंडल पर एक तस्वीर पोस्ट की जिसमें मिस्टर हबर्ड को बेबी ग्रेडी को पकड़े हुए दिखाया गया था, जिसमें बताया गया था कि उसने कैसे शिशु की जान बचाई.

कैप्शन में लिखा है, "एक अधिकारी के रूप में, आप कभी नहीं जानते कि दिन में आगे आपके सामने क्या आने वाला है. यह पलक झपकते ही 0 से 100 तक जा सकता है. पिछले शनिवार को अधिकारी हबर्ड ने एक छोटे बच्चे की जान बचाने के लिए अपने कर्तव्यों से ऊपर उठकर काम किया. धन्यवाद, अधिकारी हबर्ड, आपकी त्वरित प्रतिक्रिया के लिए. हम सबको ऐसा ही होना चाहिए."

पहली बार माता-पिता जो और केटलिन क्रोनिस्टर ने अपने तीन सप्ताह के बच्चे को गैस विरोधी दवा दी थी, जब उस दवा से शिशु का दम घुटना शुरू हो गया और "बैंगनी" पड़ गया. परिवार ने 911 पर डायल किया, जिसने मिस्टर हबर्ड को रेस्क्यू के लिए भेजा.

सिपाही ने बच्चे को घुमाया और बार-बार उसकी पीठ थपथपाई जब तक कि बच्चे ने दवा बाहर नहीं निकाल दी.

फॉक्स16 के मुताबिक पिता ने बताया. "हम सब कुछ करने की कोशिश कर रहे थे, और ऐसा लग रहा था कि वह जानता था कि वास्तव में क्या करना है."

हबर्ड ने कहा, कि उन्हें अपनी बेटी के साथ भी ऐसी ही स्थिति का सामना करना पड़ा था. इसलिए, ग्रैडी के साथ, वह इस बात से परिचित था कि उसे क्या करना है. शिशु के मुंह से दवा बाहर आने के बाद वह रोने लगा, जिससे घबराए माता-पिता को राहत मिली.

बच्चे की जान बचाते हुए पुलिस अधिकारी की आंखों में भी आंसू आ गए. मिस्टर हबर्ड ने कार्क ४ न्यूज चैनल को बताया था, "मैंने बस चिल्लाना शुरू कर दिय. यह कैसे निकला यह देखकर अच्छा लगा. मानसिक रूप से मैं बस टूट गया. मैं रो रहा था, लेकिन खुशी के आंसू थे."


मिस्टर क्रोनिस्टर ने मिस्टर हबर्ड से कहा, "ग्रैडी की जान बचाने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, हम आपके आभारी हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकारी के बॉडी कैमरा वीडियो रिकॉर्डिंग के इंटरनेट पर शेयर किए जाने के बाद, 23 वर्षीय पुलिस अधिकारी के लिए किए गए कमेंट में कई लोगों ने सराहना की जिन्होंने सेवा के लिए उन्हें धन्यवाद दिया और उनकी प्रशंसा की.